नीट 2019 एफएक्यू (NEET FAQs 2019)
Team Careers, 18 अप्रेल 2019
Applications Open Now
Hindustan University-UG Admissions
Apply

नीट 2019 एफएक्यू (अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न) - 12 वीं कक्षा के बाद एमबीबीएस पाठ्यक्रमों में प्रवेश के इच्छुक मेडिकल अभ्यर्थियों के लिए राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (नीट) क्‍वालीफाई करना आवश्‍यक है। सीबीएसई के बजाय नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) द्वारा नीट आयोजित किए जाने से जीव विज्ञान स्ट्रीम के छात्रों को परीक्षा और प्रवेश प्रक्रिया को लेकर भ्रम हो सकता है। इस प्रकार के संदेह दूर करने के लिए कैरियर्स 360 यूजी मेडिकल प्रवेश परीक्षा देने वाले छात्रों के लिए नवीनतम नीट एफएक्यू 2019 लाया है। नीट 2019 के एफएक्यू में एप्लीकेशन फार्म, पात्रता मानदंड, एडमिट कार्ड, पेपर का पैटर्न, कोर्स और परिणाम से संबंधित प्रश्नों के उत्तर शामिल हैं। नीट 2019 एफएक्यू के बारे में और जानकारी के लिए नीचे दिया गया लेख पढ़ें।

Latest: [Want to Know Colleges, Specialization to Apply on the basis of your NEET Scores, Click here]

नीट देश के सरकारी, निजी, डीम्ड और केंद्रीय विश्वविद्यालयों में एमबीबीएस, बीडीएस और आयुष कोर्स में प्रवेश के लिए राष्ट्रीय स्तर की प्रवेश परीक्षा है। केवल एम्‍स, नई दिल्ली और ‌ज‌िपमर, पुडुचेरी ही अपनी प्रवेश परीक्षा अलग से आयोजित कर सकते हैं।

नीट 2019 परीक्षार्थियों द्वारा अक्सर पूछे गए प्रश्न (एफएक्यू) नीचे देखें।

NEET College Predictor

Know your admission chances

Use Now

प्रश्न: नीट 2019 कब आयोजित की जाएगी?
उत्तर: राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा 5 मई, 2019 को आयोजित की जाएगी। 13 लाख से अधिक परीक्षार्थियों के प्रवेश परीक्षा देने की संभावना है।

प्रश्न: परीक्षा किस मोड में आयोजित की जाएगी?
उत्तर: एनटीए द्वारा 21 अगस्त को प्रकाशित प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार नीट 2019 परीक्षा केवल ऑफलाइन मोड में आयोजित की जाएगी। इससे पहले, 7 जुलाई को आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस के अनुसार मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने घोषित किया गया था कि नीट कंप्यूटर आधारित मोड में दो सत्र में आयोजित की जाएगी। 

प्रश्न: नीट यूजी 2019 का समय क्या हैं?
उत्तर: नीट 2019 की अवधि दोपहर 02:00 बजे से शाम 05:00 बजे तक 03 घंटे की होगी। हालांकि, दोपहर 1.30 बजे के बाद किसी को भी प्रवेश नहीं दिया जाएगा। 

प्रश्न: 2019 से नीट का आयोजन कौन करेगा?
उत्तर: 7 जुलाई की प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह घोषणा की गई थी कि नीट 2019 का आयोजन केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के बजाय एनटीए करेगा।

प्रश्न: जैसाकि एनटीए नीट आयोजित कर रहा है, तो क्या मुझे नीट यूजी एप्लीकेशन फार्म 2019 एनटीए की आधिकारिक वेबसाइट पर मिलेगा?
उत्तर: नहीं, प्राधिकरण - एनटीए ने नीट 2019 के लिए नई वेबसाइट शुरू की है। आधिकारिक वेबसाइट nta.nic.in पर पात्र मेड‌िकल परीक्षार्थियों को पूरा विवरण मिलेगा। हालांकि, यह वेबसाइट अभी विकसित की जा रही है और 1 नवंबर को सुबह 11:30 बजे शुरू होगी और इस पर नीट एप्लीकेशन फार्म 2019 जारी किया जाएगा।


प्रश्न: परीक्षा आयोजित करने वाले प्राधिकरण के बदलने से पेपर के पैटर्न, सिलेबस, मोड और परीक्षा पैटर्न में कोई परिवर्तन हो सकता है?
उत्तर: एनटीए द्वारा नीट का आयोजन किए जाने के बावजूद भाषाओं, परीक्षा के पैटर्न और सिलेबस में कोई बदलाव नहीं हुआ है। नीट 2019 की परीक्षा का पैटर्न पिछले वर्ष के समान ही होगा।


एनटीए नीट एफएक्यू - पात्रता मानदंड

परीक्षार्थियों को एप्लीकेशन फार्म भरने से पहले पात्रता की मूल शर्तों को देख लेना चाहिए, ताकि यह पता चल सके कि वे परीक्षा के लिए पात्र हैं या नहीं। जैसाकि एनटीए ने एप्लीकेशन फार्म जारी कर दिया है, इसलिए पात्रता मानदंड से संबंधित छात्रों के कुछ प्रासंगिक नीट एफएक्यू 2019 होंगे, जिनमें से कुछ नीचे दिए गए हैं।

प्रश्न: नीट 2019 की मूल पात्रता मानदंड क्या हैं?

उत्तर: नीट 2019 की परीक्षा देने के इच्छुक परीक्षार्थियों के लिए निम्नलिखित शर्तें पूरी करना आवश्‍यक है:

• 31 दिसंबर, 2019 को 17 वर्ष की आयु के छात्र  एनटीए नीट 2019 देने के पात्र होंगे। 31 दिसंबर, 2002 को या उससे पहले जन्‍में छात्रों को भी राष्ट्रीय परीक्षा के लिए पात्र माना जाता है।

• परीक्षार्थियों को मुख्य विषयों के रूप में भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीवविज्ञान और अंग्रेजी के साथ किसी मान्यता प्राप्त केंद्रीय या राज्य बोर्ड से 12वीं कक्षा या समकक्ष उत्‍तीर्ण होना चाहिए।

• सामान्य श्रेणी के आवेदकों के लिए क्‍वालीफाइंग अंक 50% है, जबकि एससी / एसटी / ओबीसी के लिए यह 40% है।

• भारतीय राष्ट्रीयता के छात्रों के अलावा एनआरआई, ओसीआई, पीआईओ और विदेशी नागरिक भी नीट यूजी के लिए आवेदन कर सकते हैं।


प्रश्न: नीट एमबीबीएस 2019 के लिए कितने प्रयास किए जा सकते हैं?
उत्तर: प्रयासों पर नवीनतम अधिसूचना के अनुसार इसकी संख्या की कोई सीमा निर्धारित नहीं की गई है। इच्‍छुक परीक्षार्थी जितनी बार चाहे उतनी बार परीक्षा दे सकता/सकती है।


प्रश्न: मैं पेपर के माध्यम के रूप में उड़िया भाषा का चयन करूंगा, तो क्या मुझे ऑल इंडिया कोटा सीटों के तहत 15% पाने की पात्रता है?
उत्तर: हां, ऑल इंडिया कोटा सीटों के तहत 15% सीटों के लिए न्यूनतम नीट कटऑफ 2019 हासिल करने वाले परीक्षार्थी ही पात्र होंगे। इसके अलावा ऐसे इच्छुक छात्र अन्य कोटा जैसे राज्य कोटे की सीटें, डीम्ड और केंद्रीय विश्वविद्यालय, निजी कॉलेजों में प्रबंधन कोटे की सीटों के लिए भी परीक्षा दे सकते हैं।


प्रश्न: मेरा 11 वीं और 12 वीं कक्षा के बीच एक वर्ष का गेप है। क्या मैं नीट 2019 दे सकता हूं?
उत्तर: हां, जिन छात्रों का 11 वीं और 12वीं कक्षा के बीच गेप वर्ष है, वे भी नीट यूजी 2019 के लिए पात्र होंगे। इससे पहले, मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (एमसीआई) द्वारा किए गए संशोधन के अनुसार यह निर्दिष्ट किया गया था कि नीट देने के लिए छात्र को दो साल लगातार अध्ययन करना होगा। हालांकि, दिल्ली उच्च न्यायालय ने यह संशोधन हटा दिया गया था और एक वर्ष के गेप वाले इच्छुक अभ्‍यर्थी भी नीट 2019 दे सकते हैं।

प्रश्न: नीट परीक्षा देने के लिए अधिकतम आयु मानदंड क्या है?
उत्तर: नीट देने के लिए परीक्षा की तारीख के दिन अनारक्षित / सामान्य श्रेणी के परीक्षार्थी की उम्र 25 वर्ष या उससे अधिक और आरक्षित (एससी / एसटी / ओबीसी) अभ्‍यर्थी की आयु 30 वर्ष होनी चाहिए। सामान्य श्रेणी के परीक्षार्थियों का जन्म 31 दिसंबर 2002 को या उससे पहले और आरक्षित अभ्‍यर्थियों का जन्म भी 31 दिसंबर 2002 को या उससे पहले होना चाहिए।

प्रश्न: कैसे पता करूं कि मैं नीट के लिए पात्र हूं या नहीं?
उत्तर: निर्धारित पात्रता मानदंड के अनुसार "आपकी योग्यता सत्यापित करने का सरल सूत्र यह है कि आपने भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान, जीवविज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी / अंग्रेजी (कोर) विषय के साथ दो वर्ष लगातार अध्ययन किया है और श्रेणीवार आवश्यक प्रतिशत प्राप्त किया है।" 


प्रश्न: अगर कोई परीक्षार्थी प्रश्न पत्र के माध्यम के रूप में उड़िया भाषा का चयन करता है, तो क्या वह ऑल इंडिया कोटा की 15% सीट का पात्र होगा?
उत्तर: किसी भी माध्‍यम से नीट क्‍वालीफाई करने वाले छात्र अन्‍य पात्रता मानदंड के आधार पर ऑल इंडिया कोटा और राज्य सरकारों / संस्थानों के तहत अन्य कोटा के लिए पात्र होंगे। 


प्रश्न: अगर किसी छात्र ने एनआईओएस से भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान, जीवविज्ञान और अंग्रेजी विषयों के साथ बारहवीं कक्षा पास की है, तो क्‍या वह नीट(यूजी)-2019 दे सकता है?

या

प्रश्न: क्‍या अतिरिक्त विषय के रूप में जीव विज्ञान / जैव-प्रौद्योगिकी लेकर 12 वीं कक्षा उत्तीर्ण करने वाला छात्र नीट 2019 देने के लिए पात्र है? 
उत्‍तर- प्राइवेट परीक्षा देने वाले या ओपन स्कूल से 10 + 2 पास करने वाले छात्र 'राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा' नहीं दे सकेंगे। इसके अलावा, 10 + 2 के स्तर पर अतिरिक्त विषय के रूप में जीव विज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी का अध्ययन भी स्वीकार्य नहीं होगा। "12 वीं कक्षा में अतिरिक्त विषय के मामले में दिल्ली उच्च न्यायालय, इलाहाबाद उच्च न्यायालय, लखनऊ बेंच और मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय में याचिकाएं दायर की गई हैं। यह याचिकाएं ओपन स्कूल के परीक्षार्थियों और अतिरिक्त विषय के रूप में जीव विज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी का अध्ययन करने वाले छात्रों को अयोग्य ठहराए जाने वाले विनियमों के इस प्रावधान को समाप्‍त करने के लिए दायर की गई हैं।


प्रश्न: अगर किसी छात्र/छात्रा ने सीबीएसई या केएसए / विदेश के किसी अन्य बोर्ड से 11वीं कक्षा तक और भारत में सीबीएसई से 12 वीं कक्षा तक की पढ़ाई की है, तो क्या वह नीट(यूजी) - 2019 दे सकेगा/सकेगी?
उत्तर: जी हां, विदेश में शिक्षित और भारत के मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश पाने के इच्छुक छात्रों को भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान, जीवविज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी और अंग्रेजी के विषयों में 50% अंकों के साथ उत्तीर्ण होना और मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया तथा संबंधित विश्वविद्यालय के नियमों के अनुसार एसोसिएशन ऑफ इंडियन यूनिवर्सिटीज़ (एआईयू) द्वारा निर्धारित उनकी समकक्षता होनी चाहिए। 


नीट एफएक्यू 2019- करेक्‍शन विंडो फेसिलिटी

अस्वीकृत आवेदनों की संख्या को कम करने के लिए एनटीए ने परीक्षार्थियों को नीट एप्लीकेशन फार्म भरते समय अनजाने में हुई गलतियों को सुधारने का एक और अवसर दिया है। परीक्षार्थी अपने लॉग इन क्रेडेंशियल का उपयोग एप्लीकेशन में आवश्यक परिवर्तन कर सकते हैं। करेक्‍शन विंडो फेसिलिटी 14 जनवरी को शुरू की गई थी और यह 31 जनवरी तक उपलब्ध रहेगी।


प्रश्न: करेक्‍शन विंडो फेसिलिटी का उपयोग करके कौन से विवरण में परिवर्तन किया जा सकता हैं?
उत्तर: परीक्षार्थी एप्लीकेशन फार्म के सभी स्‍थानों में बदलाव कर सकते हैं। नीट 2019 के एप्लीकेशन फार्म में भरी हुई व्यक्तिगत जानकारी जैसे, जन्म स्थान, प्रश्न पत्र का माध्यम,नीट परीक्षा शहरों का विकल्प, शैक्षणिक विवरण (कक्षा 10,11 और 12), पता, माता-पिता और अन्य विवरण में परिवर्तन किया जा सकता है। हालांकि, ये परिवर्तन केवल निर्धारित तारीख के भीतर ही किए जा सकते हैं। अंतिम तारीख के बाद संशोधन के किसी भी अनुरोध पर विचार नहीं किया जाएगा। विवरण में कैसे परिवर्तन करें इसके बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए परीक्षार्थी नीट 2019 एप्लीकेशन करेक्‍शन गाइड देख सकते हैं।


प्रश्न: क्या मैं नीट एप्लीकेशन फार्म में अपनी 12 वीं कक्षा के क्‍वालीफाइंग कोड में परिवर्तन कर सकता हूं?
उत्तर: हां, आप नीट एप्लीकेशन फार्म 2019 में 12 वीं कक्षा का क्‍वालीफाइंग कोड बदल सकते हैं। परीक्षार्थी एप्लीकेशन के सभी स्‍थानों में परिवर्तन कर सकेंगे। परीक्षार्थी अपने नीट एप्लीकेशन लॉग इन क्रेडेंशियल का उपयोग कर आवश्यक परिवर्तन कर सकते हैं। 12 वीं कक्षा के क्‍वालीफाइंग कोड और पात्रता मानदंड के लिए इस लेख के ऊपरी हिस्‍सें में एक लिंक दिया गया है।

प्रश्न: क्या मैं नीट एप्लीकेशन फार्म में अपनी फोटो बदल सकता हूं?
उत्तर: एनटीए ने उन सभी परीक्षार्थियों को सूचित किया है, जिन्होंने एप्लीकेशन फार्म में ईमेल के माध्यम से गलत फोटो अपलोड किए हैं। उन्होंने अपलोड की गई फोटो की त्रुटियों के बारे में बताया है, इसलिए ऐसा ईमेल पाने वाले छात्र प्राधिकरण के निर्देशानुसार अपनी फोटो बदल सकते हैं। परीक्षार्थी को अपने क्रेडेंशियल का उपयोग कर लॉग इन कर प्राधिकरण द्वारा बताया गया बदलाव केवल फोटो में करना होगा। 


प्रश्न: मैंने नाम और सफेद पृष्ठभूमि के बिना फोटो लगाई है, क्या मेरे एप्लीकेशन को खारिज कर दिया जाएगा?
उत्तर: प्राधिकरण ने नोटिस जारी किया है कि नाम, तारीख या सफेद पृष्ठभूमि के बगैर फोटो को अस्वीकार नहीं किया जाएगा।


प्रश्न: क्या मैं एप्लीकेशन फार्म में अपना पता बदल सकता हूं?
उत्तर: परीक्षार्थी नीट करेक्‍शन विंडो के जरिए अपने एप्लीकेशन फार्म में पता बदल सकते हैं। नीट एप्लीकेशन में पता बदलने के लिए परीक्षार्थी को अपने लॉग इन क्रेडेंशियल का उपयोग कर पता के स्‍थान में परिवर्तन करना होगा। 


नीट एफएक्यू 2019 – एप्लीकेशन फार्म 

नीट यूजी प्रवेश परीक्षा देने के लिए परीक्षार्थियों को नीट 2019 का एप्लीकेशन फार्म भरना होगा। हालांकि, एप्लीकेशन फार्म एनटीए द्वारा जारी किया जाएगा, लेकिन इस वर्ष कुछ बदलाव हुए हैं। इस प्रकार परीक्षार्थियों के प्रश्नों के आधार पर एप्लीकेशन फार्म संबंधित कुछ नीट 2019 एफएक्यू नीचे दिए गए हैं।


प्रश्न: एप्लीकेशन फार्म किस तारीख को उपलब्ध होंगे और उसे जमा करने की अंतिम तारीख क्या होगी?
उत्तर: प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार नीट एप्लीकेशन फार्म 1 नवंबर, 2018 को ऑनलाइन मोड में उपलब्ध करा दिए गए हैं। सभी संबंधित सूचना के साथ पंजीकृत परीक्षार्थी ही प्रवेश परीक्षा देने के पात्र होंगे। नीट यूजी 2019 के लिए ऑनलाइन पंजीयन की अंतिम तारीख 7 दिसंबर, 2018 है।


प्रश्न: क्या नीट यूजी आवेदन शुल्‍क की राशि में कोई बदलाव होगा? मैं आवेदन शुल्क का भुगतान कैसे कर सकता हूं?
उत्तर: एनटीए ने अपनी प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से पुष्टि की है कि नीट यूजी आवेदन शुल्क वही रहेगा। सामान्य श्रेणी के लिए 1400 रुपये, जबकि आरक्षित वर्ग के परीक्षार्थियों को 750 रुपये का भुगतान करना होगा। 

सभी मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय और बहुराष्ट्रीय बैंकों के साथ ही रूपे द्वारा जारी डेबिट कार्ड के माध्यम से भुगतान स्वीकार किया जाता है। इंटरनेट बैंकिंग या यूपीआई विधियों से भी भुगतान किया जा सकता है। इच्छुक व्यक्ति कॉमन सर्विस सेंटर्स पर जाकर ई-वॉलेट्स से भी भुगतान कर सकते हैं।


प्रश्न: मैंने भुगतान कर दिया है, लेकिन अंतिम पुष्टि पेज डिस्‍प्‍ले नहीं किया जा रहा है। मुझे क्या करना चाहिए?
उत्तर: परीक्षार्थी को 24 घंटे इंतजार करने की सलाह दी जाती है। अगले 24 घंटों में पुष्टिकरण पेज का प्रिंट आउट लें, क्योंकि गेटवे भुगतान से एनआईसी सर्वर पर फीस के अपडेशन में देरी हो सकती है। यह अपडेशन अधिकतम 24 घंटे के भीतर किया जाता है। इसके बाद यदि पुष्टिकरण पेज अभी भी जनरेट नहीं हुआ है, तो एक बार फिर से शुल्क का भुगतान करें और पुष्टिकरण पेज का प्रिंटआउट लें। भुगतान किया गया अतिरिक्त शुल्क उस खाते में स्वत: ही वापस कर दिया जाएगा,जिससे आवेदन शुल्क दिया गया था। अगर अभी भी समस्या हल नहीं हुई है, तो स्पष्टीकरण के लिए संबंधित बैंक से संपर्क करें। 


प्रश्न: मेरा एप्लीकेशन फार्म सबमिट करते समय मैं इसे सबमिट कर पाता उससे पहले ही यह नजर आता है कि मेरा सेशन समाप्त हो गया। इस प्रकार मेरा फार्म भर या सबमिट ही नहीं हो पाया है। मैं क्या कर सकता हूँ?
उत्तर: यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि अभ्‍यर्थी अधिकतम 30 मिनट की अवधि के भीतर एप्लीकेशन फार्म सबमिट कर दें। इस समय के बाद सेशन समाप्त हो जाता है। सबसे पहले, फार्म के एक हिस्से को ड्राफ्ट के तौर पर सेव करें। नया हिस्‍सा शुरू करने से पहले फार्म के प्रत्येक भाग को इसी प्रकार सेव करें। इस प्रकार सेशन समाप्त होने पर भी दर्ज की गई कोई भी जानकारी खोएगी नहीं। परीक्षा‍र्थी को फार्म कनेक्‍ट करने से पहले सभी आवश्यक सूचना अपने पास तैयार रखनी चाहिए।


प्रश्न: नीट 2019 के लिए एनटीए को किए गए शुल्क भुगतान का प्रमाण कैसे प्राप्त करें?
उत्तर: पुष्टिकरण पेज जनरेट होने का अर्थ है कि सफलतापूर्वक शुल्क भुगतान हो गया है। इसके अलावा, पुष्टि पृष्ठ के निचले हिस्से में ट्रांजेक्‍शन आईडी जैसे शुल्क भुगतान का ब्‍योरा दिया जाता है, जिसे आगे के संदर्भ के लिए सेव किया जा सकता है। कोई अन्य रसीद नहीं दी जाएगी। 

प्रश्न: अगर नीट 2019 के एप्लीकेशन फार्म में निम्नलिखित जानकारी दर्ज करते समय मैंने कोई गलती की है, तो क्या मैं इसे बदल सकता हूं?

•वर्ग

• पिता के नाम के स्थान पर माता का नाम और इसके विपरीत

• गलत क्‍वालीफिकेशन कोड

• गलत परीक्षा शहर 

उत्तर: उपरोक्त चारों का उत्तर हां है, छात्र इन विवरणों को नीट एप्लीकेशन करेक्‍शन विंडो में बदल सकेंगे, जो 14 से 31 जनवरी, 2019 तक खुली रहेगी। कृपया सुनिश्चित करें कि इस विंडो में सभी विवरण सही ढंग से दर्ज किए जाएं, क्‍योंकि इसके बाद फार्म में परिवर्तन करने का कोई अन्य मौका नहीं दिया जाएगा। 


प्रश्न: अगर मेरी फोटो के नीचे अनिवार्य नाम और तारीख के बगैर मैंने फोटो अपनी अपलोड कर दी है, तो क्या होगा?
उत्तर: परीक्षार्थी को अपलोड की गई फोटो में कोई बदलाव नहीं करने दिया जाएगा। अगर फोटो सही है यानि यह निर्दिष्‍ट आकार के अनुरूप है और इसमें परीक्षार्थी का चेहरा स्पष्ट नजर आता है, तो एनटीए इसे नाम और तारीख के बिना भी स्वीकार कर लेगा। 


प्रश्न: मैंने अंग्रेजी के प्रश्न पत्र का विकल्प चुना है, लेकिन ऐसे शहर में जो मेरा गृह राज्य में नहीं है, तो क्या मैं नीट एमबीबीएस 2019 की परीक्षा दे सकूंगा?
उत्तर: सभी परीक्षा केंद्रों में अंग्रेजी, हिंदी और उर्दू भाषाओं के पेपर वितरित किए जाएंगे। इसलिए अगर परीक्षार्थी अंग्रेजी भाषा में नीट 2019 की परीक्षा दे रहे हैं, तो वे अपने लिए सबसे सुविधाजनक शहर का चयन कर सकते हैं। परीक्षा देने में कोई दिक्कत नहीं होगी।


प्रश्न: अगर मैं अपनी भाषा के रूप में तमिल का चयन कर रहा हूं, तो क्या मैं दिल्ली में नीट दे सकूंगा?
उत्तर: नहीं। सभी मातृ भाषा/ क्षेत्रीय भाषाओं में नीट यूजी देने वाले परीक्षार्थियों को केवल उसी राज्य के शहर का चयन करने की अनुमति होगी, जिसमें वह भाषा बोली जाती है। इसलिए जो परीक्षार्थी तमिल भाषा में नीट देना चाहते हैं, तो उन्‍हें तमिलनाडु के शहर का चयन करना होगा।  


प्रश्न: फोटोग्राफ और हस्ताक्षर के लिए क्या निर्देश हैं? फोटोग्राफ पर कौन सी तारीख होनी चाहिए?
उत्तर: नीट 2019 आवेदन दिशानिर्देशों के अनुसार परीक्षार्थियों को फोटो और हस्ताक्षर के संबंध में निम्नलिखित विवरणों को ध्यान में रखना चाहिए: 

फोटो के लिए

• फ़ाइल का आकार 10 केबी और 100 केबी के बीच हो सकता है

• जेपीजी फॉर्मेट होना चाहिए

• एक रंगीन पासपोर्ट आकार होना चाहिए और इसे सफेद बैकग्राउंड में खिंचा जाना चाहिए

• परीक्षार्थी का नाम और फोटो लेने की तारीख इसके नीचे प्रिंट होनी चाहिए

• परीक्षार्थी को टोपी या काले चश्मे नहीं पहनने चाहिए। गैर-टिंटेड चश्मा लगा सकते हैं।

हस्ताक्षर के लिए:

• फ़ाइल का आकार 3 केबी और 20 केबी के बीच हो सकता है

• जेपीजी फॉर्मेट होना चाहिए

• सफेद बैकग्राउंड पर काले या नीले पेन से रनिंग हैंड में करनी चाहिए

एनटीए फोटोग्राफ और हस्ताक्षर से संबंधित किसी भी सुधार के बारे में परीक्षार्थियों को ई-मेल / एसएमएस के माध्यम से सूचित करेगा और इसे परीक्षार्थी के लॉग इन अकाउंट से देखा जा सकता है। 


प्रश्न: क्या मुझे एनएटीए को अपने नीट एप्लीकेशन और अन्य दस्तावेजों की प्रति भेजनी चाहिए?
उत्तर: कृपया ध्यान दें कि संपूर्ण नीट आवेदन प्रक्रिया पूरी तरह से ऑनलाइन है और कोई ऑफ़लाइन पत्राचार नहीं किया जाना चाहिए। इस प्रकार एप्‍नीकेशन फार्म या किसी अन्य संबंधित दस्तावेज की कोई हार्ड कॉपी आयोजक प्राधिकरण को नहीं भेजी जानी चाहिए। 


प्रश्न: अगर मैंने 10 वीं एक राज्य से और 12 वीं अन्‍य राज्‍य से की है, तो मुझे ‘स्टेट ऑफ एलिजिबिलिटी’(15% ऑल इंडिया कोटा) के लिए किस स्‍थान का चयन करना चाहिए?
उत्तर: 15% ऑल इंडिया कोटा के लिए चयनित राज्य का छात्र की प्रवेश प्रक्रिया पर कोई असर नहीं पड़ता है, क्योंकि 15% ऑल इंडिया कोटा सीटों पर प्रवेश के लिए मूल निवास आवश्यक नहीं है। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि 10 वीं या 12 वीं कहां से की गई, क्योंकि कोई भी परीक्षार्थी नीट 2019 में ऑल इंडिया कोटा सीटों के लिए जम्मू और कश्मीर को छोड़कर किसी भी राज्य में आवेदन कर सकता है।  इस स्‍थान में भरने के लिए सबसे अच्छा विकल्प वह राज्य है, जहां परीक्षार्थी का स्थायी पता है या वह राज्य, जिसमें परीक्षार्थी को 85% राज्य कोटे की सीटों के लिए पूर्ण मूल निवास पात्रता है। 


प्रश्न: मेरे राज्य में, मेरी श्रेणी "एक्‍सवाईजेड" है, जो नीट के विकल्प में नहीं आ रही है। "एक्‍सवाईजेड" श्रेणी के परीक्षार्थियों को मेरे राज्य में आरक्षण दिया जाता है। मैं एक्‍सवाईजेड श्रेणी में आरक्षित सीट के लिए कैसे पात्र होगा, क्योंकि नीट के एप्लीकेशन फार्म में यह श्रेणी नहीं आ रही है?

उत्तर: एनटीए केवल निम्नलिखित श्रेणियों पर ध्‍यान देता है:

1. अनारक्षित 

2. अन्य पिछड़ा वर्ग

3. अनुसूचित जाति

4. अनुसूचित जनजाति

5. दिव्‍यांगजन

ऐसे परीक्षार्थी को काउंसलिंग का पंजीयन अपने राज्य में करवाने के लिए आवेदन करना होगा। पंजीयन के दौरान, संबंधित राज्य की पात्रता / आरक्षण नियमों के अनुसार सभी वांछित जानकारी एकत्र की जाएगी और तदनुसार एनटीए द्वारा जारी ऑल इंडिया रैंक के आधार पर राज्य प्रवेश प्राधिकरण द्वारा मेरिट सूची तैयार की जाएगी।


प्रश्न: मैं उत्तर प्रदेश से हूं, लेकिन पिछले 10 वर्ष से दिल्ली में रह रहा हूं। मुझे “स्टेट ऑफ़ एलिजिबिलिटी (15% ऑल इंडिया कोटा के लिए)” कॉलम में क्‍या भरना चाहिए।
उत्तर: इस तरह के निर्णय परीक्षार्थियों को स्वयं लेना चाहिए। हालांकि, यह स्पष्ट किया गया है कि ऐसे परीक्षार्थी उत्तर प्रदेश और दिल्ली दोनों राज्‍यों में काउंसलिंग के लिए आवेदन कर सकते हैं और काउंसलिंग के दौरान, 85% कोटा सीटों के लिए उनकी पात्रता की जांच राज्य प्रवेश अधिकारियों द्वारा की जाएगी और पात्र पाए जाने पर परीक्षार्थी को प्रवेश दिया जाएगा।


प्रश्न: मैंने नीट एप्लीकेशन फार्म में ईमेल आईडी और फोन नंबर दोनों गलत दिए हैं। मुझे क्या करना चाहिए?
उत्तर: ऐसी स्थिति में आवेदक अपना एप्लीकेशन फार्म ही सबमिट नहीं कर पाएगा, क्योंकि इसके लिए वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी) की आवश्यकता होगी। इसका मतलब है कि उन्‍हें तुरंत ही मोबाइल फोन नंबर और ईमेल आईडी बदलना होगा। कृपया फार्म भरते समय सावधान रहें और केवल सही विवरण दर्ज करें। 


प्रश्न: अगर मैं 12 वीं के बाद एक बार फिर सुधार परीक्षा के लिए बैठा हूं, तो मुझे अपने नीट एप्लीकेशन फार्म में किस पास वर्ष को दर्ज करना चाहिए?
उत्तर: अगर परीक्षार्थी बेहतर अंक प्राप्त करने के लिए सुधार परीक्षा दे रहे हैं और वे किसी विषय में फेल हो गए और उस विषय को पास करने के लिए परीक्षा नहीं दे रहें हैं, तो वे 12वीं उत्तीर्ण होने के मूल वर्ष को दर्ज करें। अगर वे पहले प्रयास में ही आवश्यक अंकों के साथ 12 वीं कक्षा पास कर चुके हैं और ये अंक नीट पात्रता के लिए आवश्यक अंकों से अधिक हैं, तो परीक्षार्थी को वही वर्ष अपने एप्लीकेशन फार्म में दर्ज करना चाहिए। हालांकि अगर छात्र ने 12 वीं कक्षा पास नहीं की है और कुछ विषयों में पास होने के लिए वह फिर से परीक्षा दे रहे हैं, तो उन्हें परीक्षा दे रहे का वि‍कल्‍प दर्ज करना चाहिए और अपने क्‍वालीफाइंग एग्‍जाम कोड के रूप में कोड 01 का चयन करना चाहिए। 


प्रश्न: मैंने ऑनलाइन भुगतान किया है, लेकिन मेरा पुष्टिकरण पेज जनरेट नहीं हुआ है। मुझे क्या करना चाहिए?
उत्तर: ऐसा बैंक सर्वर से एनआईसी सर्वर तक कनेक्टिविटी के ड्रॉप होने के कारण होता है। इन मामलों में बैंक सेवाएं दिन में कम से कम दो से तीन बार एनआईसी सर्वर को संदेश भेजती है, ताकि ड्रॉप हो चुका कम्‍यूनिकेशन पूरा हो सके। सफलतापूर्वक भुगतान किए जाने के बाद परीक्षार्थी का पुष्टिकरण पेज जनरेट हो जाएगा। परीक्षार्थियों को सलाह दी जाती है कि ऐसी समस्‍या उत्‍पन्‍न होने पर वे कम से कम 24 घंटे इंतजार करें।


प्रश्न: अगर नीट यूजी के ऑनलाइन एप्लीकेशन फार्म भरते समय ‘फाइल नॉट फाउंड’ एरर आता है लगातार समय समाप्त हो जाता है, तो मुझे क्या करना चाहिए?
उत्तर: एप्लीकेशन फार्म भरते समय मोज़िला फ़ायरफ़ॉक्स / इंटरनेट एक्सप्लोरर (9.0 से ऊपर) और अच्छे इंटरनेट कनेक्शन का उपयोग करें। लगातार समय समाप्त होने की स्थिति में ब्राउज़र की कुकीज और हिस्‍ट्री को साफ़ करें तथा ऐसे समय पर फार्म भरें जब साइट ज्‍यादा व्‍यस्‍त न हो।


प्रश्न: मैंने दो बार भुगतान किया है, मेरा अतिरिक्त शुल्क मुझे कब वापस किया जाएगा?
उत्तर: अपडेट नहीं किया गया शुल्क आपके बैंक / भुगतान गेटवे द्वारा आपको उसी खाते में 7 कार्य दिवसों के भीतर वापस कर दिया जाएगा, जहां से भुगतान किया गया है। यह बैंक की नीति के अनुसार है।

एनटीए द्वारा जारी किए गए एप्लीकेशन फार्म के नीट एफएक्यू 2019 देखने के लिए - यहां क्लिक करें 

 

नीट एमबीबीएस एफएक्यू – एग्‍जाम पैटर्न 

नीचे परीक्षा पैटर्न से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण नीट यूजी एफएक्यू 2019 दिए गए हैं। नीट एमबीबीएस परीक्षा में बैठने वाले परीक्षार्थियों को एनटीए नीट 2019 के इन एफएक्यू को अवश्‍य देखना चाहिए। छात्रों को नीट पेपर पैटर्न 2019 के बारे में पता होना चाहिए, क्‍योंकि इससे उन्‍हें परीक्षा की संरचना, कठिनाई के स्तर, अंक देने की योजना, आवंटित समय और अन्य विवरण के बारे में जानकारी प्राप्‍त होगी। 

प्रश्न: क्या नीट पेपर पैटर्न 2019 में कोई बदलाव हुआ है?

उत्तर: नहीं, यह सूचित किया गया है कि आयोजक प्राधिकरण के बदलने से एनटीए नीट 2019 के परीक्षा पैटर्न को नहीं बदला जाएगा।

नीट 2019 में निम्नलिखित बिंदु अपरिवर्तित हैं:

• नीट सिलेबस 2019 - शुरुआत से ही बताया गया है कि वही सिलेबस होगा। भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान में कवर किए गए टॉपिक से प्रश्न पूछे जाएंगे।

• परीक्षा का माध्यम - पिछले वर्ष के समान ही नीट 11 भाषाओं में आयोजित की जाएगी। 

• परीक्षा का तरीका – पहले ऑनलाइन मोड में परीक्षा आयोजित होने की उम्मीद थी, लेकिन बाद में इसे बदल दिया गया। पिछले साल की तरह ही परीक्षा कंप्यूटर आधारित मोड में आयोजित की जाएगी।

• नीट का सत्र – पहले राष्ट्रीय स्तर की यह परीक्षा एक वर्ष में दो बार आयोजित की जानी थी। हालांकि, अब परीक्षा एक साल में एक बार 5 मई, 2019 को आयोजित की जाएगी।

प्रश्न: नीट 2019 का पेपर पैटर्न क्या होगा?

उत्तर: नीट प्रवेश परीक्षा में भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान (बॉटनी + जूलॉजी) विषयों पर आधारित 180 बहुविकल्पीय प्रश्न होंगे। प्रत्येक खंड में 45 प्रश्न होंगे। प्रवेश परीक्षा के लिए आवंटित कुल समय 03 घंटे है। उम्‍मीद है कि पिछले वर्ष की तरह ही परीक्षा सुबह 10:00 बजे से दोपहर 01:00 बजे तक होगी।

प्रश्न: नीट का सिलेबस क्या होगा और परीक्षा में किस प्रकार के प्रश्न पूछे जाएंगे?

उत्तर: परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्न 11 वीं और 12 वीं कक्षा में कवर किए गए भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान के टॉपिक से होंगे। इसलिए परीक्षार्थियों को सलाह दी जाती है कि वे नीट यूजी 2019 सिलेबस में दिए गए सभी टॉपिक का अध्‍ययन करें।


एडमिट कार्ड के लिए नीट 2019 एफएक्यू 

जिन परीक्षार्थियों के एप्लीकेशन फार्म प्राधिकरण द्वारा स्वीकार किए जाएंगे, वे 15 अप्रैल से नीट एडमिट कार्ड 2019 डाउनलोड कर सकते हैं। नियामक निकाय द्वारा जारी किए जाने वाले एडमिट कार्ड में नाम, नीट रोल नंबर, एप्लीकेशन नंबर, व्यक्तिगत विवरण, परीक्षा की तारीख और समय, नीट यूजी परीक्षा केंद्र का विवरण और एप्लीकेशन फार्म का अन्‍य ब्‍योरा होगा। एडमिट कार्ड से संबंधित नीचे दिए गए कुछ महत्वपूर्ण नीट एमबीबीएस एफएक्यू देखें।

प्रश्न: मैं अपने आवेदन की स्थिति नहीं देख पा रहा हूं। क्या मैं अपना नीट एडमिट कार्ड 2019 डाउनलोड कर सकता हूं?

उत्तर: नीट का हॉल टिकट डाउनलोड करने के लिए, पंजीयन संख्या और पासवर्ड दर्ज करना होगा। अगर आवेदन की स्थिति नजर नहीं आ रही है, लेकिन परीक्षार्थी का पुष्टि पेज है, तो वे एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं।

नोट: अगर नीट 2019 एडमिट कार्ड डाउनलोड नहीं होता है, तो इसका अर्थ है कि प्राधिकारण द्वारा आवेदक के एप्लीकेशन फार्म को स्वीकार नहीं किया गया है।

प्रश्न: अगर किसी को एडमिट कार्ड नहीं मिलता है, तो किससे संपर्क करें?

उत्तर: गौरतलब है कि परीक्षार्थियों को एडमिट कार्ड भेजा नहीं जाएगा, यह केवल आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध होगा। ऐसे परीक्षार्थी जो एडमिट कार्ड डाउनलोड नहीं कर सकते हैं या एडमिट कार्ड डाउनलोड करते समय उनके सामने कुछ समस्‍या आ रही है, तो उन्हें तुरंत इस बारे में परीक्षा आयोजित करने वाले प्राधिकारण से संपर्क करना चाहिए या वे ईमेल के जरिए भी उनसे बात कर सकते हैं।

प्रश्न: नीट यूजी परीक्षा केंद्रों 2019 पर ले जाने वाले दस्तावेज क्या हैं?

उत्तर: परीक्षार्थियों को नीट एमबीबीएस 2019 के परीक्षा केंद्र में निम्नलिखित दस्तावेज अवश्‍य ले जाने हैं:

• पासपोर्ट आकार का फोटोग्राफ लगा एडमिट कार्ड

• उपस्थिति पत्रक पर चिपकाने के लिए एक पासपोर्ट आकार का फोटो

• अधिकृत (मूल, वैध और गैर-समाप्त) फोटो आईडी: पेन कार्ड / ड्राइविंग लाइसेंस / वोटर आईडी / पासपोर्ट में से कोई भी एक 

नोट: परीक्षार्थियों को सलाह दी जाती है कि वे परीक्षा केंद्रों में कोई अन्य सामान न ले जाएं। यहां तक कि बॉल-पॉइंट पेन भी परीक्षा केंद्रों पर एनटीए द्वारा उपलब्ध कराया जाएगा। गौरतलब है कि परीक्षार्थियों का सामान रखने की कोई व्यवस्था नहीं की जाएगी।

प्रश्न: नीट एडमिट कार्ड 2019 में अपलोड की गई फोटो नाम और तारीख के साथ है, लेकिन मैंने बिना नाम और तारीख के फोटो चिपका दिया है। क्या इससे परीक्षा केंद्र पर कोई समस्या होगी?

उत्तर: नीट के पिछले वर्ष के ब्रोशर के अनुसार ऐसा कोई नियम नहीं बताया गया है। हालांकि, छात्रों को सलाह दी जाती है कि वे कोई भूल न करें अन्यथा वे अपने पसंदीदा कॉलेज में एमबीबीएस कोर्स में प्रवेश पाने का मौका गवां सकते हैं। इसलिए उन्हें एप्लीकेशन फार्म में लगाए किए गए उस फोटो के समान पासपोर्ट आकार की फोटो चिपकानी चाहिए, जिसे एडमिट कार्ड में अपलोड किया गया है।

प्रश्न: नीट यूजी के एडमिट कार्ड पर लगाने वाले पासपोर्ट आकार के फोटोग्राफ का साइज क्या होना चाहिए?

उत्तर: पिछले वर्ष के नियमों के अनुसार निम्‍नलिखित डाइमेंशन वाली पासपोर्ट आकार की फोटो लगानी चाहिए:

• फोटो डाइमेंशन: 2X2 इंच, 35 X 45 मिमी या 35 X 35 मिमी (5 X 5 सेमी, 3.5 X 4.5 सेमी, 3.5 X 3.5 सेमी)

• अन्य विवरण: फोटोग्राफ का बैकग्राउंड सफेद होना चाहिए और फोटोग्राफ खिंचने की तारीख और समय लिखा होना चाहिए।

नीट यूजी एफएक्यू 2019 – परीक्षा के दिन के लिए दिशा निर्देश 

परीक्षा के दिन पालन किए जाने वाले निर्देशों के बारे में छात्रों द्वारा पूछे गए नीट 2019 के एफएक्यू निम्नलिखित हैं। दिशानिर्देश, नीट 2019 ड्रेस कोड और एनटीए द्वारा निर्दिष्ट अन्य नियमों का पालन करना आवश्यक है।

प्रश्न: परीक्षा के दौरान किस फोटो को देने के लिए कहा जाएगा?

उत्तर: वह फोटो जिसका उपयोग एप्लीकेशन फार्म भरते समय किया गया और जिसे आपके एडमिट कार्ड पर अपलोड किया गया है। ऊपर बताई गई विशेषताओं वाला पासपोर्ट साइज का फोटोग्राफ लगाना चाहिए।

प्रश्न: परीक्षा हॉल में प्रवेश का समय क्या है?

उत्तर: सुबह 11:30 बजे से प्रवेश दिया जाएगा। हालांकि दोपहर 01:30 के बाद किसी को भी केंद्र में प्रवेश करने की अनुमति नहीं है।

प्रश्न: नीट परीक्षा से एक दिन पहले मुझे क्या करना चाहिए?

उत्तर: इस प्रश्न का कोई उत्तर नहीं है। निम्नलिखित टिप्स परीक्षा से एक दिन पहले आपके लिए कारगर होंगे:

• कुछ मत करो और घबराओं मत।

• आराम के लिए ध्यान लगाया जा सकता है।

• घबराए बगैर अपने माता-पिता या बुजुर्गों से अपनी चिंता के बारे में बताने का प्रयास करें।

• अगर थके नहीं तो शाम को या दोपहर में पिछले कुछ वर्ष के प्रश्न पत्र देख सकते हैं, लेकिन उन्‍हें हल करने का प्रयास नहीं करें।

• छात्रों को सकारात्मक रहना चाहिए। परीक्षा से ठीक पहले नकारात्मक सोच और घबराहट स्वाभाविक है, लेकिन इससे आप कैसे निपटते हैं वह महत्‍वपूर्एा होगा।

• 7-8 घंटे की नींद लें

प्रश्न: नीट 2019 परीक्षा देते समय किस ड्रेस कोड का पालन किया जाना चाहिए?

उत्तर: नीट ड्रेस कोड 2019 का उचित पालन करने के लिए परीक्षार्थियों के लिए निम्नलिखित विवरण देखना अनिवार्य है:

पुरुष परीक्षार्थियों के लिए ड्रेस कोड:

• पुरुष परीक्षार्थियों को परीक्षा के दौरान आधी आस्तीन वाली शर्ट / टी-शर्ट पहनना चाहिए। पूरी आस्तीन वाले शर्ट की अनुमति नहीं है।

• पिछले वर्ष प्राधिकरण ने बताया था कि कपड़े हल्के होने चाहिए, जिसका मतलब है कि कपड़ों पर ज़िप, जेब, बड़े बटन और अधिक कढ़ाई नहीं होनी चाहिए।

• परीक्षा के दिन लड़कों को कुर्ता-पजामा नहीं पहनना चाहिए, इसके बजाय वे पैंट पहन सकते हैं।

• जूते की भी अनुमति नहीं है, इसलिए वे चप्पल और सैंडल पहन सकते हैं

महिला परीक्षार्थियों का ड्रेस कोड:

• महिला परीक्षार्थियों को अधिक कढ़ाई, फूल, ब्रोच और बटन वाले कपड़े नहीं पहनना चाहिए।

• कपड़े हल्के और आधे आस्तीन के होने चाहिए

• फुटवियर के लिए, लड़कियों को कम एड़ी की चप्पल और सैंडल पहनना चाहिए। परीक्षा हॉल में जूते पूरी तरह से प्रतिबंधित हैं।

• महिलाओं को सलाह दी जाती है कि वे परीक्षा के समय बालियां, अंगूठी, पेंडेंट, नाक की रिंग, हार या अन्य कोई आभूषण न पहनें।

विशिष्ट परिधान 

विशिष्‍ट परिधान का अर्थ पारंपरिक पोशाक या विशेष धर्म से संबंधित पोशाक से है। इसमें बुर्का और हेड स्कार्फ को शामिल किया जाएगा। दिल्ली उच्च न्यायालय के आदेश के अनुसार पिछले वर्ष सिख अभ्यर्थियों को परीक्षा हॉल के अंदर कंघा, कड़ा और किरपान ले जाने की अनुमति दी गई थी। ऐसी वस्‍तुओं को विशिष्‍ट सामान माना जाएगा।

नीट 2019 के एप्लीकेशन फार्म भरते समय परीक्षार्थियों से पूछा जाएगा कि क्या वे ऐसे पांरपरिक परिधान या कोई अन्य कपड़े पहनेंगे, जो ड्रेस कोड के विपरीत है।

नीट 2019 एफएक्यू - आंसर की

प्रश्न: क्या नीट आंसर की 2019 और आकाश की नीट आंसर की में कोई अंतर होता है?

उत्तर: हां, आकाश इंस्टिट्यूट के विशेषज्ञों द्वारा तैयार और जारी की गई आंसर की अनाधिकारिक माना जाएगा और आकाश द्वारा नीट आंसर की में दिए गए समाधान गलत हो सकते हैं।

दूसरी तरफ एनटीए द्वारा जारी आंसर की आधिकारिक होगी। आधिकारिक नीट 2019 आंसर की की मदद से परीक्षार्थी प्रवेश परीक्षा में हासिल किए जाने वाले अंक का अनुमान लगा सकते हैं। हालांकि, छात्रों को इसे अंतिम नहीं मानना चाहिए।

प्रश्न: आकाश की आंसर की के अनुसार मैं नीट 2019 में 460 अंक हासिल कर रहा हूं। अब मुझे क्या करना चाहिए?

उत्तर: सबसे पहले किसी को भी परीक्षा के लिए किए गए अपने प्रयासों को कम नहीं समझना चाहिए। परीक्षार्थियों को फाइनल आंसर की प्रकाशित होने की प्रतीक्षा करनी चाहिए, क्योंकि अनाधिकारिक आंसर की में कुछ समस्याएं हो सकती हैं। अगर परीक्षार्थी को लगता है कि आधिकारिक आंसर की में कुछ गलत उत्तर हैं, तो वे 1000 रुपये प्रति प्रश्न भुगतान कर उत्‍तर पर आपत्ति दर्ज करा सकते हैं। 

प्रश्न: क्या आधिकारिक आंसर की जारी होने के बाद भी नीट 2019 में विवादास्पद प्रश्नों के लिए बोनस अंक दिए जाएंगे?

उत्तर: नीट हमेशा बहुत सारे विवादों से घिरा रहा है। गलत प्रश्न और बोनस अंक पर विवाद परीक्षार्थियों द्वारा दर्ज आपत्तियों पर निर्भर करता है।

आधिकारिक नीट आंसर की 2019 के प्रकाशन के बाद अगर परीक्षार्थियों को नीट 2019 की आधिकारिक आंसर की में कोई त्रुटि मिली, तो उन्‍हें उस पर आपत्ति दर्ज करने का अवसर दिया जाएगा।

प्रश्न: क्या ओएमआर ग्रेडिंग के उत्‍तर(रों) पर आपत्ति दर्ज कराने का कोई प्रावधान है?

उत्तर: हां, परीक्षार्थी को नीट यूजी 2019 की रिस्‍पांस शीट और आंसर की पर आपत्ति दर्ज करने का अवसर दिया जाएगा। आंसर की पर आपत्ति दर्ज करने के तरीके के बारे में संक्षिप्त विवरण नीचे दिया गया है।

• परीक्षार्थी आधिकारिक आंसर की और ओएमआर शीट पर आपत्ति दर्ज कर सकते हैं। इसके लिए उन्‍हें प्रति प्रश्‍न 1000 रुपये प्रोसेसिंग फीस देनी होगी, जो वापस नहीं होगी। 

•परीक्षार्थियों द्वारा दर्ज की गई आपत्तियों को एनटीए विषय विशेषज्ञों से सत्यापित करवाएगा। अगर आपत्ति किया गया उत्तर सही पाया जाता है, तो उसके अनुसार आंसर की में संशोधन किया जाएगा। संशोधित आंसर की के आधार पर परिणाम तैयार कर घोषित किया जाएगा।

• किसी भी परीक्षार्थी को उसकी / उसकी आपत्ति की स्वीकृति / गैर-स्वीकृति के बारे में व्‍यक्तिगत रूप से सूचित नहीं किया जाएगा।

नीट 2019 एफएक्यू – परिणाम 

प्रश्न: नीट परिणाम 2019 की घोषणा के लिए अंतिम तारीख क्या है?

उत्तर: एनटीए की अधिसूचना के अनुसार नीट 2019 परिणाम केवल ऑनलाइन मोड में 5 जून को घोषित किया जाएगा। परीक्षार्थियों को डाक या किसी अन्य माध्यम से परिणाम नहीं भेजा जाएगा।

प्रश्न: क्या नीट यूजी परिणाम 2019 के साथ ही राज्य की मेरिट लिस्‍ट भी प्रकाशित की जाएगी?

उत्तर: नहीं, नीट परिणाम के साथ राज्य की मेरिट लिस्‍ट प्रकाशित नहीं की जाएगी। नेशनल टेस्‍ट एजेंसी (एनटीए) परीक्षा देने वाले सभी परीक्षार्थियों का परिणाम जारी करेगी। 15% ऑल इंडिया कोटा योजना के तहत चयनित परीक्षार्थी काउंसलिंग प्रक्रिया में शामिल होने के पात्र होंगे।

राज्य कोटे की 85% सीटों पर प्रवेश के लिए राज्य काउंसलिंग प्राधिकारी नीट स्कोर के आधार पर राज्य की मेरिट लिस्‍ट तैयार करेंगे। राज्य रैंक सूची सहित मेरिट रैंक के आधार पर सरकारी और प्राइवेट मेडिकल कॉलेजों / संस्थानों में प्रवेश दिया जाएगा।

प्रश्न: पर्सेंटाइल रैंक का अर्थ क्या है?

उत्तर: पर्सेंटाइल रैंक वह स्कोर प्रतिशत है जो किसी समूह में दिए गए स्कोर से कम होता है। किसी भी परीक्षार्थी के पर्सेंटाइल स्कोर की गणना निम्नानुसार की जाएगी:

100 x उम्मीदवार से कम या उसके बराबर रॉ स्‍कोर वाले उम्मीदवारों की संख्या

 परीक्षा में बैठे कुल उम्मीदवारों की संख्‍या


प्रश्न: प्रतियोगिता के अनुसार नीट परिणाम 2019 में मेरे अंक कम हैं। मैं एक साल ड्रॉप नहीं करना चाहता हूं। अब मुझे क्या करना चाहिए?

उत्तर: ऐसे मामले में परीक्षार्थी को चिंता करने की बजाय राज्य की मेरिट लिस्‍ट की प्रतीक्षा करनी चाहिए। हालांकि, अगर परीक्षार्थी उस विशेष राज्य के मूल निवासी हैं,तो उन्‍हें राज्य कोटे की 85% सीटों के लिए आवेदन करना होगा।

अभ्‍यर्थी को एक साल ड्रॉप कर मॉक टेस्ट हल करते हुए और अच्छा स्कोर हासिल करने का भी सुझाव दिया जाएगा। किसी निर्णय से हटना कठिन होगा लेकिन तैयारी या मॉक टेस्ट के दौरान 580+ से अधिक स्कोर बनाए रखने से छात्रों को परीक्षा में अच्छा स्कोर करने में मदद मिलेगी।

प्रश्न: नीट स्कोर कार्ड और नीट रैंक लेटर 2019 में क्या अंतर है?

उत्तर: नीट स्कोर कार्ड परीक्षार्थी का व्यक्तिगत परिणाम है जो 5 जून, 2019 को आधिकारिक वेबसाइट पर प्रदर्शित होगा। इसमें परीक्षार्थी का नाम, पर्सेंटाइल स्‍कोर, श्रेणी, ऑल इंडिया रैंक, श्रेणी रैंक और नीट कट ऑफ 2019 अंक दिए होंगे।

जबकि, नीट यूजी 2019 का रैंक लेटर डिजीलॉकर के माध्यम से उपलब्ध होगा। ऑल इंडिया कोटा श्रेणी में 15% सीट आवंटन प्रक्रिया में शामिल होने वाले परीक्षार्थी ही रैंक लेटर डाउनलोड कर सकेंगे। इसमें 15% एआईक्‍यू मेरिट रैंक, श्रेणी-वार रैंक, परीक्षार्थियों के कुल और विषय वार स्कोर शामिल होंगे।

प्रश्न: नीट 2019 कट ऑफ कैसे निर्धारित किया जाएगा और वर्ष 2019 के लिए अनुमानित कट ऑफ क्या होगा?

उत्तर: परिणाम के साथ नीट यूजी 2019 का कट ऑफ उपलब्ध कराया जाएगा। हालांकि, निम्नलिखित कारकों के आधार पर कट ऑफ निर्धारित किया जाएगा:

• प्रवेश परीक्षा में बैठे परीक्षार्थियों की संख्या 

• परीक्षा की कठिनाई का स्तर

• प्रत्येक श्रेणी और कॉलेज के तहत उपलब्ध सीटें

प्रवेश परीक्षा सम्‍पन्‍न होने के बाद ही, कोचिंग इंस्टिट्यूट के विशेषज्ञ उपर्युक्त कारकों के आधार पर नीट यूजी की कट ऑफ तैयार करेंगे, जो जारी होते ही उपलब्ध होगी।

काउंसलिंग पर नीट एफएक्यू 

चिकित्सा परामर्श समिति (एमसीसी) की ओर से स्वास्थ्य सेवा महानिदेशालय (डीजीएचएस) 15% ऑल इंडिया कोटा सीटों और डीम्ड तथा केंद्रीय विश्वविद्यालयों की सभी सीटों पर प्रवेश के लिए नीट 2019 की काउंसलिंग आयोजित करेगा। अगर काउंसलिंग की पात्रता, इसमें शामिल होने, प्रवेश की प्रक्रिया, राउंड और अधिक जानकारी के लिए परीक्षार्थी नीट 2019 काउंसलिंग एफएक्यू पेज देख सकते हैं। 

आधिकारिक नीट एफएक्यू– 2019 देखने के लिए - यहां क्लिक करें

उपरोक्त नीट एफएक्यू में उल्लिखित प्रश्नों के अलावा परीक्षार्थी अपने प्रश्‍न कैरियर्स360 द्वारा उपलब्ध कराए गए मेडीसिन क्‍यू ऐंड ए पेज पर भी पूछ सकते हैं।   नीट 2019 एप्लीकेशन करेक्‍शन गाइड

Applications Open Now

Graphic Era University Admissions 2019
Graphic Era University Admiss...
Apply
Hindustan University-UG Admissions
Hindustan University-UG Admis...
Apply
United Group of Institutions
United Group of Institutions
Apply
View All Application Forms

संबंधित लेख और समाचार

Top
150M+ छात्र
24,000+ कालेजों
500+ परीक्षा
1500+ ई बुक्स