नीट पात्रता मानदंड 2020 (NEET Eligibility Criteria 2020)
Gaurav.pandey, 02 दिसम्बर 2019

नीट पात्रता मानदंड 2020: राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (एनटीए) ने 01 दिसंबर 2019 को नीट 2020 पात्रता मानदंड को विस्तृत रूप में जारी कर दिया है। ये परीक्षा मानदंड नीट 2020 प्रवेश परीक्षा को देने की इच्छा रखने वाले प्रत्येक छात्र को पूरे करने चाहिए अन्यथा वे परीक्षा में उपस्थित होने से वंचित रह सकते हैं। नीट पात्रता मानदंड क्वालिफाइंग परीक्षा, उत्तीर्ण प्रतिशत (पास पर्सेंटेज), राष्ट्रीयता, आयु सीमा, प्रयासों की संख्या आदि से संबंधित शर्तें और दिशानिर्देश हैं। नीट 2020 पात्रता मानदंड, ग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन, 1997 अधिनियम पर आधारित हैं जिसे अंतिम बार 2018 में संशोधित किया गया था। जबकि पहले आयु सीमा और विषयों के साथ-साथ स्कूल के प्रकारों पर भी प्रतिबंध था, अब ये सभी प्रतिबंध हटा दिए गए हैं। नीट पात्रता मानदंडों की सूची से ऊपरी आयु सीमा से जुड़ी शर्तों को समाप्त कर दिया गया है। जिन उम्मीदवारों ने एक ओपन स्कूल से अध्ययन किया है या एक अतिरिक्त विषय के रूप में जीव विज्ञान ली है, वे भी अब परीक्षा के लिए आवेदन करने के पात्र हैं। नीट, एमबीबीएस, बीडीएस, आयुष और अन्य चिकित्सा कोर्सेज में एडमिशन के लिए आयोजित किया जाने वाले एंट्रेंस एग्जाम है। इस लेख को पढ़कर NEET 2020 पात्रता मानदंड को भलीभांति जानें।

Latest: नीट एप्लीकेशन फॉर्म 2020, 2 दिसंबर को जारी कर दिए गए हैं। फॉर्म 31 दिसंबर 2019 तक भरे जा सकते हैं।

Latest :  Crack NEET 2020 with NEET Knockout Program( AI-Based Coaching), If you Do Not Qualify- Get 100% MONEY BACK. Know More

नीट 2020 ऑफिशियल इन्फॉर्मेशन ब्रोशर रिलीज हुआ।

एनटीए द्वारा नीट 2020 पेन और पेपर मोड में 3 मई को देशभर के 155 शहरों में आयोजित की जाएगी। नीट आवेदन फॉर्म 2 दिसंबर, 2019 को शाम 5 बजे से उपलब्ध हो गए हैं। योग्य उम्मीदवार नीट 2020 के लिए 31 दिसंबर, 2019 तक आवेदन कर सकते हैं।

नीट 2020 परीक्षा में बैठने के लिए कौन पात्र हैं?

भारत के नागरिकों के अलावा एनआरआई, पीआईओ, ओसीआई और विदेशी नागरिक नीट 2020 परीक्षा देने के पात्र हैं। नीट उन परीक्षार्थियों के लिए अनिवार्य किया गया है जो भारत में मेडिसिन का अध्ययन करना चाहते हैं। यह उन उम्मीदवारों के लिए भी अनिवार्य है जो विदेश में चिकित्सा का अध्ययन करना चाहते हैं, लेकिन प्रैक्टिस के लिए भारत वापस आना चाहते हैं। NEET 2020 के अन्य पात्रता मानदंड नीचे विस्तारपूर्वक बताये गए हैं।

NEET Online Preparation

Crack NEET 2020 with NEET Knockout Program, If you Do Not Qualify- Get 100% MONEY BACK

Start Now

नीट 2020 पात्रता मानदंड - महत्वपूर्ण तथ्य

मानदंड

विवरण

क्‍वालीफाइंग परीक्षा

उम्मीदवारों को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से कोर विषयों के रूप में भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी और अंग्रेजी के साथ 10 + 2 या समकक्ष उत्तीर्ण होना चाहिए। उम्मीदवार जो कक्षा 12 या समकक्ष परीक्षा के लिए उपस्थित हो रहे हैं, वे भी NEET 2020 के लिए आवेदन करने के लिए पात्र हैं।

न्यूनतम आयु सीमा

उम्मीदवारों को 31 दिसंबर 2020 तक 17 साल का हो जाना चाहिए।

अधिकतम आयु सीमा*

सर्वोच्च न्यायालय द्वारा इस पर अपना निर्णय पारित करने तक कोई ऊपरी आयु सीमा नहीं है।

क्वालीफाइंग मार्क्स

प्रत्येक श्रेणी के लिए प्रतिशत अंक अलग-अलग निर्धारित किये गए हैं। केवल पीसीबी सब्जेक्ट्स के लिए कुल अंकों को जोड़ा जाएगा।

यूआर - 50%,

ओबीसी/एससी/एसटी - 40%,

पीडब्ल्यूडी - 45%

अधिकतम प्रयास

छात्र कितने प्रयास कर सकता है, इसकी कोई सीमा नहीं है।

राष्ट्रीयता

भारतीय नागरिक, एनआरआई, ओसीआई, पीआईओ और विदेशी नागरिक भी इसके पात्र हैं

नीट पात्रता मानदंड - क्वालिफाइंग एग्जामिनेशन कोड का विवरण

नीट एप्‍लीकेशन फार्म 2020 में शैक्षणिक विवरण भरते समय परीक्षार्थियों को क्‍वालिफाइंग एग्‍जामिनेशन कोड का चयन करना होगा, जिसके बारे में नीचे बताया गया है:

कोड 01: 2020 में 12 वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा देने वाले परीक्षार्थी और जिनका परिणाम अभी घोषित नहीं किया गया है, उन्हें यह कोड चुनना होगा। हालांकि, एमबीबीएस / बीडीएस कोर्स में प्रवेश के पात्र होने के लिए यह परीक्षा उत्तीर्ण होना अनिवार्य है, ऐसा नहीं होने पर वे कोर्स में प्रवेश के पात्र नहीं होंगे।

कोड 2: उच्च / उच्‍चतर माध्यमिक परीक्षा या भारतीय स्कूल सर्टिफिकेट परीक्षा (आईएससीई), जो 12 वर्ष के अध्ययन के बाद 12 वीं कक्षा की परीक्षा के बराबर है, में पढ़ने वाले छात्रों को इस कोड को चुनना चाहिए। छात्र ने अंतिम दो वर्षों में मुख्य विषय के रूप से भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी और मैथमेटिक्‍स या अंग्रेजी के साथ किसी भी अन्य वैकल्पिक विषय का अध्‍ययन किया है। यह विषय राष्ट्रीय शिक्षा समिति द्वारा की गई सिफारिश के अनुसार 10 + 2 + 3 शैक्षिक प्रणाली शुरू होने के बाद राष्ट्रीय शिक्षा अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) द्वारा निर्धारित किए गए होने चाहिए। यह कोड उन परीक्षार्थियों के लिए लागू होगा, जिन्होंने वर्ष 2019 में या उससे पहले 12 वीं कक्षा उत्‍तीर्ण की है और 12 वीं कक्षा के बाद कोई अन्‍य कोर्स नहीं किया है, वे इस कोड को चुन सकते हैं।

कोड 3: वे परीक्षार्थी जिन्होंने भारतीय विश्वविद्यालय / बोर्ड या अन्य मान्यता प्राप्त परीक्षा निकायों से भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीवविज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी और अनिवार्य विषय के रूप में अंग्रेजी के साथ विज्ञान में इंटरमीडिएट / प्री-डिग्री परीक्षा उत्‍तीर्ण की हो, उन्हें इस कोड का चुनाव करना चाहिए। कोर्स में विज्ञान विषयों के प्रेक्टिकल टेस्‍ट शामिल होना चाहिए। जिन परीक्षार्थियों ने 12 वीं कक्षा के समकक्ष परीक्षा राज्य बोर्ड से पास की हो, वे भी इस कोड का चुनाव करें।

कोड 4: हायर सेकंडरी परीक्षा या प्री-यूनिवर्सिटी अथवा समकक्ष परीक्षा भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीवविज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी और अंग्रेजी के साथ से उत्तीर्ण करने के बाद प्री-प्रोफेशनल / प्री-मेडिकल परीक्षा पास करने वाले अभ्‍यर्थी आवेदन करते समय इस कोड का प्रयोग करें। प्री-प्रोफेशनल / प्री-मेडिकल परीक्षा में इन विषयों के प्रेक्टिकल टेस्‍ट और अनिवार्य विषय के रूप में अंग्रेजी भी शामिल होनी चाहिए।

कोड 5: ऐसे उम्मीदवार जो किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से तीन साल का डिग्री कोर्स कर रहे हैं, उन्हें भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीवविज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी के साथ प्रथम वर्ष में उत्तीर्ण होना चाहिए, जिसमें इन विषयों के प्रेक्टिकल टेस्‍ट भी शामिल होने चाहिए। उन्हें इस कोड को चुनना चाहिए। इससे पहले परीक्षार्थी ने भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी और अंग्रेजी के साथ मुख्य पाठ्यक्रम (कोर कोर्स) के रूप में 10 + 2 स्तर की परीक्षा पास की हो।

कोड 6: वे अभ्यर्थी जिन्होंने भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीवविज्ञान (वनस्पति विज्ञान, प्राणी विज्ञान) / जैव-प्रौद्योगिकी में से कम से कम दो विषयों के साथ भारतीय विश्वविद्यालय से बीएससी की परीक्षा उत्तीर्ण की है को आवेदन पत्र भरते समय इस कोड को चुनना बहुत जरूरी है। इसके अलावा उन्होंने अंग्रेजी, भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीवविज्ञान के साथ योग्यता परीक्षा (10 + 2) उत्तीर्ण की हुई होनी चाहिए।

कोड 7: ऐसे उम्मीदवार जो किसी अन्य ऐसी परीक्षा में भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी के साथ ही इन विषयों की प्रयोगात्मक परीक्षाओं और अंग्रेजी में उत्तीर्ण हुए हैं, जो कि स्कोप और मानकों में भारतीय विश्वविद्यालय / बोर्ड की इंटरमीडिएट साइंस परीक्षा के समकक्ष हैं, को नीट आवेदन पत्र में इस कोड को दर्ज करना होगा। यह समझा जाना चाहिए कि अंतिम दो वर्षों के अध्ययन में भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी के साथ ही इन विषयों की प्रयोगात्मक परीक्षाओं को शामिल होना चाहिए। उन परीक्षार्थियों को भी इस कोड को भरना आवश्यक है, जिन्‍होंने विदेश स्थित किसी विश्वविद्यालय से परीक्षा उत्‍तीर्ण की है। इंडियन बोर्ड्स की 12वीं कक्षा के कोर्स की समकक्षता का निर्धारण एसोसिएशन ऑफ इंडियन यूनिवर्सिटीज (एआईयू) द्वारा किया जाएगा। अगर क्‍वालीफाइंग परीक्षा में प्राप्त अंक ग्रेड में हैं, तो उसके समकक्ष प्राप्‍तांक भी एआईयू द्वारा निर्धारित किए जाएंगे।

नीट पात्रता मानदंड 2020 - आयु सीमा

नीट 2020 पात्रता मानदंडों के अनुसार प्रवेश के समय परीक्षार्थी की आयु 31 दिसंबर, 2020 को या उससे पहले 17 वर्ष होनी आवश्यक है। नीट के अधिकतम आयु सीमा मानदंड पर उच्‍चतम न्‍यायालय में एक याचिका दायर की गई है और इसके साथ ही अभ्‍यर्थियों को परीक्षा देने की अनुमति दी गई है, परन्तु अभी तक इस पर कोई अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है।

नीट 2020 आयु सीमा मानदंड

क्र.सं.

श्रेणी

न्यूनतम आयु के लिए जन्म तिथि

1

अनारक्षित श्रेणी (यूआर) के परीरक्षार्थियों के लिए

31 दिसंबर, 2003 को या इससे पहले जन्‍म

2

एससी / एसटी / ओबीसी श्रेणी के परीक्षार्थियों के लिए

31 दिसंबर, 2003 को या इससे पहले जन्‍म

नीट 2020 के लिए क्‍वालीफाइंग अंक

  • नीट पात्रता मानदंड 2020 के अनुसार, परीक्षार्थी को क्‍वालीफाइंग एग्‍जाम (10+2 या समकक्ष) में भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीवविज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी और अंग्रेजी में प्रत्येक में उत्तीर्ण होना चाहिए।

  • अनारक्षित श्रेणी (यूआर) से संबंधित परीक्षार्थियों को 12वीं कक्षा या एचएससी परीक्षा में भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी में न्यूनतम 50% अंक स्‍कोर करना आवश्यक होगा।

  • अनुसूचित जाति (एससी) / अनुसूचित जनजाति (एसटी) या अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) के परीक्षार्थियों के क्‍वालीफाइंग एग्‍जाम में भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीवविज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी में कुल मिलाकर न्यूनतम 40% अंक होने चाहिए।

  • लोअर लिंब्स की लोकोमोटर विकलांगता वाले उम्मीदवारों ने भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी में कुल मिलाकर सामान्य-पीएच के लिए न्यूनतम 45% अंक और एससी-पीएच / एसटी-पीएच / ओबीसी-पीएच के लिए 40% अंक प्राप्त किए हुए होने चाहिए।

नीट 2020 पात्रता मानदंड - आवश्यक न्यूनतम प्रतिशत

श्रेणी

क्‍वालीफाइंग एग्‍जाम में पीसीबी के कुल अंक

अनारक्षित

50%

एससी / एसटी / ओबीसी / आरक्षि‍त –पीएच

40%

अनारक्षित- पीएच

45%

एनआरआई / विदेशी छात्रों के लिए नीट 2020 पात्रता मानदंड

नीट 2020 पात्रता मानदंड पूरा करने के लिए परीक्षार्थियों को 12 वीं कक्षा या इसके समकक्ष परीक्षा भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान और अंग्रेजी के साथ उत्तीर्ण करना अनिवार्य है। जिन अभ्‍यर्थियों ने देश के बाहर से अपनी शिक्षा पूरी की है, उन्हें नीट पात्रता मानदंड 2020 को पूरा करना अनिवार्य है। इन अभ्‍यर्थियों द्वारा अन्य देशों से उत्तीर्ण की गई अंतिम परीक्षा 12वीं कक्षा के समकक्ष होनी चाहिए। अभ्‍यर्थियों ने क्‍वालीफाइंग एग्‍जाम में भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान के थ्योरी और प्रैक्टिकल टेस्ट को पास किया होना चाहिए और साथ ही अंग्रेजी विषय को भी उत्तीर्ण किया हुआ होना चाहिए।

नीट पात्रता मानदंड 2020 - प्रयासों की संख्या

वर्ष 2018 में, नीट में प्रयासों की संख्या को समाप्त कर दिया था, इसलिए नीट 2020 में भी प्रयासों की संख्या पर किसी प्रकार का प्रतिबंध नहीं है। नीट 2020 पात्रता मानदंडों के अनुसार यदि कोई छात्र नीट परीक्षा के लिए पात्र है तो वह अपनी इच्छानुसार कितनी बार भी परीक्षा दे सकता है।

नीट पात्रता मानदंड 2020 - 15% ऑल इंडिया कोटा सीट / डीम्ड विश्वविद्यालय / केंद्रीय विश्वविद्यालय / ईएसआईसी और एएफएमसी कॉलेज

नीट 2020 क्वालीफाई करने वाले उम्मीदवार 15% ऑल इंडिया कोटा सीटों, डीम्ड विश्वविद्यालयों के साथ-साथ केंद्रीय विश्वविद्यालयों, ईएसआईसी और एएफएमसी की 100% सीटों के लिए भी आवेदन कर सकते हैं। यह काउंसलिंग एमसीआई द्वारा ऑल इंडिया लेवल पर आयोजित की जाएगी।

जम्मू और कश्मीर के उम्मीदवार 15% ऑल इंडिया कोटा सीटों के लिए तब तक पात्र नहीं हैं जब तक कि उन्होंने नीट 2020 आवेदन पत्र के साथ सेल्फ डिक्लेरेशन फॉर्म (स्व-घोषित पत्र) नहीं भरा हो। स्व-घोषित फॉर्म जमा करने का तात्पर्य यह है कि उम्मीदवार 15% ऑल इंडिया कोटा सीटों के लिए काउंसलिंग में शामिल होना चाहता है और इसके साथ ही वह अपने गृह राज्य (होम स्टेट) की सीटों के लिए स्वतः ही अयोग्य हो जाएगा। ये परीक्षार्थी डीम्ड विश्वविद्यालयों, ईएसआईसी और एएफएमसी कॉलेजों की सीटों के लिए पात्र होंगे।

डीयू की 85% सीटों के लिए आवंटन उन उम्मीदवारों के लिए ओपन होगा जिन्होंने दिल्ली से कक्षा 10 और 12 पूरी कर की है, जबकि एएमयू की संस्थागत कोटा सीटें केवल एएमयू छात्रों के लिए होंगी।

नीट पात्रता मानदंड 2020 - 85% राज्य कोटा सीटें

85% राज्य कोटा सीटों का मतलब क्रमशः राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों के सभी सरकारी कॉलेजों की सीटें हैं। ऐसी सीटों के लिए काउंसलिंग संबंधित राज्य अधिकारियों द्वारा आयोजित की जाएगी। राज्य कोटे की सीटों के लिए आवेदन करने के लिए, उम्मीदवारों को प्रत्येक राज्य या केंद्रशासित प्रदेश प्राधिकरण द्वारा निर्धारित NEET 2020 पात्रता मानदंडों को पूरा करना चाहिए जिसमें अधिवास अन्य शर्तें भी शामिल हो सकती हैं।

निजी मेडिकल / डेंटल कॉलेजों में प्रवेश भी राज्य / केंद्रशासित प्रदेश की नीतियों पर निर्भर होगा।

Frequently Asked Question (FAQs) - नीट पात्रता मानदंड 2020 (NEET Eligibility Criteria 2020)

प्रश्न: मेरा 11वीं और 12वीं कक्षा के बीच एक वर्ष का अंतर (गैप) है, क्या फिर भी मैं नीट 2020 की परीक्षा दे सकता हूं?

उत्तर:

जी हां, दोनों कक्षाओं में एक वर्ष के गैप वाले छात्र भी नीट 2020 के लिए पात्र होंगे। इससे पहले, एमसीआई ने "ग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन पर नियमन, 1997" में संशोधन किया था, जिसमें यह निर्दिष्ट किया गया था कि नीट परीक्षा की पात्रता के लिए छात्र को दो साल लगातार अध्ययन करना होगा। हालांकि, दिल्ली उच्च न्यायालय ने यह संशोधन हटा दिया गया था और अब जिन छात्रों के अध्‍ययन में एक वर्ष का गैप है, वे भी नीट 2020 परीक्षा दे सकते हैं। नीट के नवीनतम इनफार्मेशन ब्रोशर में भी यही बताया गया है।

प्रश्न: क्या एनआईओएस छात्र नीट 2020 के लिए पात्र हैं?

उत्तर:

एनआईओएस छात्र नीट 2020 परीक्षा दे सकते हैं, क्योंकि इस तरह के छात्रों को परीक्षा से वंचित रखने वाले क्लॉज़ को दिल्ली उच्च न्यायालय ने हटा दिया था। हालांकि, एनटीए ने कहा है कि यह पात्रता एमसीआई द्वारा दायर स्पेशल लीव याचिकाओं के अंतिम फैसले पर निर्भर करती है।

प्रश्न: मैं मार्च 2020 में 25 वर्ष का हो जाऊंगा। क्या मैं नीट के लिए अब भी पात्र माना जाऊंगा?

उत्तर:

हां, आप नीट परीक्षा देने के पात्र हैं, क्योंकि उच्‍चतम न्‍यायालय के निर्देश के अनुसार अब 25 वर्ष या उससे अधिक आयु के अभ्‍यर्थी नीट परीक्षा दे सकते हैं।

प्रश्न: 11वीं और 12वीं कक्षा में मेरे पास अतिरिक्त विषय के रूप में जीव विज्ञान था। क्या मैं नीट 2020 परीक्षा के लिए पात्र हूं अथवा नहीं ?

उत्तर:

एनटीए के अनुसार अतिरिक्त विषय के रूप में जीव विज्ञान वाले परीक्षार्थी नीट 2020 के लिए पात्र हैं। हालांकि, अंतिम निर्णय एमसीआई द्वारा दायर स्पेशल लीव याचिकाओं के फैसले पर निर्भर करेगा। एमसीआई द्वारा यह क्लॉज़ नीट 2018 के लिए लागू किया गया था, लेकिन दिल्ली उच्च न्यायालय ने इसे खारिज कर दिया गया था। इसका अर्थ है कि 11वीं और 12 वीं कक्षा में अतिरिक्त विषय के रूप में जीवविज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी वाले छात्र नीट 2020 के लिए पात्र हैं।

प्रश्न: क्या नीट 2020 के लिए एनटीए मेरे 12वीं कक्षा के अंक पर विचार करेगा?

उत्तर:

नीट 2020 परीक्षा देने की पात्रता के लिए परीक्षार्थी को आवश्यक न्यूनतम प्रतिशत स्कोर करना होगा। यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि 12वीं में आवश्यक न्यूनतम प्रतिशत से परीक्षार्थी केवल नीट 2020 की परीक्षा दे सकेंगे, लेकिन इससे वे नीट क्‍वालीफाई नहीं माने जाएंगे।

प्रश्न: नीट परीक्षा कौन दे सकता है?

उत्तर:

एनटीए ने नीट 2020 परीक्षा देने की इच्छा रखने वालों के लिए विशिष्ट पात्रता मानदंड निर्धारित किए हैं। जो उम्मीदवार इन पात्रता मानदंडों को पूरा करते हैं, वे नीट परीक्षा दे सकेंगे। जो परीक्षा उत्तीर्ण करेंगे उनका नीट स्कोरकार्ड जारी किया जाएगा।

प्रश्न: NEET परीक्षा के नियम क्या हैं?

उत्तर:

प्राधिकरण ने एक उम्मीदवार को प्रवेश प्रक्रिया के लिए योग्य बनने के लिए आवश्यक स्पष्ट नियमों और विनियमों को निर्दिष्ट किया है। उम्मीदवार इन्फॉर्मेशन ब्रोशर में वर्णित नियमों को पढ़ सकते हैं और इनका पालन कर सकते हैं।

Applications Open Now

KIIT University (KIITEE- 2020)
KIIT University (KIITEE- 2020)
Apply
UPES - School of Health Sciences
UPES - School of Health Sciences
Apply
MyNEET 2020- Mock Test
MyNEET 2020- Mock Test
Apply
View All Application Forms

संबंधित लेख और समाचार

Top
150M+ छात्र
24,000+ कालेजों
500+ परीक्षा
1500+ ई बुक्स