एम्‍स एमबीबीएस 2019 (AIIMS MBBS 2019)
Team Careers, 11 जुलाई 2019
Applications Open Now
Hindustan University-UG Admissions
Apply

एम्‍स एमबीबीएस 2019 - अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS), नई दिल्ली 15 जुलाई (5:00 PM) से 17 जुलाई (5:00 PM) तक एम्स एमबीबीएस काउंसलिंग 2019 के दूसरे दौर का आयोजन करने जा रहा है। जिन उम्मीदवारों ने एम्स एमबीबीएस परीक्षा उत्तीर्ण की है, वे पंजीकरण आईडी, रजिस्ट्रेशन यूनिक कोड (आरयूसी), पासवर्ड और कैप्चा कोड जैसे लॉगिन क्रेडेंशियल्स का उपयोग करके एम्स एमबीबीएस काउंसलिंग के दो राउंड में भाग लेने के लिए पात्र हैं। इससे पहले प्राधिकरण ने 30 जून को एम्स एमबीबीएस 2019 काउंसलिंग के पहले दौर का परिणाम घोषित किया था। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स), नई दिल्ली ने 20 जून से एम्स 2019 मॉक काउंसलिंग शुरू की थी। जिन उम्मीदवारों ने एम्स एमबीबीएस परीक्षा उत्तीर्ण की है, वे रजिस्ट्रेशन आईडी, रजिस्ट्रेशन यूनिक कोड (आरयूसी), पासवर्ड और कैप्चा कोड जैसे लॉगिन क्रेडेंशियल्स का उपयोग करके मॉक काउंसलिंग में भाग ले सकते हैं। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS), नई दिल्ली ने 12 जून को एम्स एमबीबीएस 2019 रिजल्ट घोषित किया था, जबकि व्यक्तिगत पर्सेंटाइल स्कोर 14 जून को जारी किया गया। परिणाम के साथ, परीक्षा अधिकारियों ने एम्स एमबीबीएस 2019 कटऑफ भी जारी किया था। मॉक काउंसलिंग रजिस्ट्रेशन के दौरान, उम्मीदवारों को अपनी पसंद के संस्थानों को भरना होगा। एम्स एमबीबीएस 2019 मॉक काउंसलिंग का परिणाम जून 2019 के अंतिम सप्ताह में जारी किया जाएगा। मॉक राउंड के पूरा होने के बाद, एम्स एमबीबीएस काउंसलिंग 2019 के राउंड के लिए एस्पिरेंट्स अपनी वरीयताओं को संपादित / हटा सकते हैं / संशोधित कर सकते हैं। प्राधिकरण ने एम्स एमबीबीएस काउंसलिंग 2019 की तारीखें अभी जारी नहीं की हैं और एक बार घोषित होने के बाद इन्हें यहाँ अपडेट किया जाएगा। 15 एम्स संस्थानों की कुल 1,207 यूजी मेडिकल सीटों पर प्रवेश के लिए 25 और 26 मई को एम्स एमबीबीएस 2019 परीक्षा आयोजित की गई थी। प्राधिकरण ने एम्स एमबीबीएस 2019 के लिए भारत में 15 एम्स के लिए एक संशोधित सीट मैट्रिक्स जारी की है। संशोधित सीट मैट्रिक्स के अनुसार, अनारक्षित श्रेणी में तीन सीटों की वृद्धि की गई है अर्थात अब कुल सीटें 609 से बढ़कर 612 हो गईं हैं। ओबीसी श्रेणी और एसटी श्रेणी के तहत भी एक सीट बढ़ा दी गई है। एससी श्रेणी के तहत उपलब्ध सीटें अपरिवर्तित हैं।

Latest: [Careers360 brings you All India Talent search exam (CTSE) for medical exams aspirants 2020/21. Get Scholarship and prizes worth 1.25 Crore. Hurry Up]  - Register here

LATEST: एम्स एमबीबीएस 2019 काउंसलिंग का दूसरा राउंड 15 से 17 जुलाई के बीच आयोजित होगा !

कुल 3,38,457 उम्मीदवार क्वालीफाई किये थे, जिनमें 1,57,488 पुरुष थे, 1,80,934 महिलाएं थीं और 35 थर्ड जेंडर के थे। उम्मीदवारों की कुल संख्या में से, केवल 11,380 ही काउंसलिंग के लिए अर्हता प्राप्त करने में कामयाब रहे, जिसमें से 7,352 पुरुष, 4,027 महिलाएं और एक थर्ड जेंडर से है। क्वालीफाई करने वाले उम्मीदवारों को ऑनलाइन काउंसलिंग में भाग लेने की अनुमति दी जाएगी। सीट आवंटन प्रक्रिया के लिए बुलाए गए छात्र उपलब्ध सीटों की संख्या से आठ गुना अधिक होंगे। काउंसलिंग प्रक्रिया के लिए उपस्थित होने वाले सभी उम्मीदवारों को व्यक्तिगत स्कोरकार्ड डाउनलोड करना होगा।

CTSE 2019 for NEET

Careers360 talent search exam(CTSE) - Upto 100% Scholarship and prizes

Register Now

एम्‍स एमबीबीएस 2019 के एप्‍लीकेशन फार्म 30 नवंबर को उपलब्‍ध हो गए थे। परीक्षा प्राधिकरण ने एम्‍स एमबीबीएस प्रॉस्पेक्टस 2019 भी जारी किया था, जिसमें पात्रता मानदंड, महत्वपूर्ण तारीखें, पंजीयन प्रक्रिया, परीक्षा पैटर्न, सिलेबस, परिणाम, कांउसलिंग, सीट मैट्रिक्स, शुल्‍क संरचना और अन्य जानकारी दी गई थी।

एम्स 2019 के प्रॉस्पेक्टस में परीक्षा पैटर्न, सिलेबस, अंक देने की योजना, परिणाम और मेरिट लिस्ट तैयार करने में कोई बदलाव नहीं किया गया है। हालांकि, एम्‍स काउंसलिंग 2019 की तारीख अभी जारी नहीं की गई हैं। इसकी घोषणा बाद में की जाएगी। एम्स एमबीबीएस प्रॉस्पेक्टस 2019 के अनुसार पंजीकृत आवेदकों की संख्या के आधार पर परीक्षा दो दिन दो पारियों में आयोजित की जाएगी। आधिकारिक ब्रोशर के अनुसार पीडब्लूडी के परीक्षार्थियों के लिए 12वीं कक्षा का न्यूनतम क्‍वालीफाइंग प्रतिशत घटा कर 45% कर दिया गया है। इससे पहले यह 50 प्रतिशत था।

एम्‍स एमबीबीएस 2019 की परीक्षा दो दिन दो पारी (सुबह और शाम) में आयोजित की गई। एम्‍स एमबीबीएस परीक्षा में 200 बहुविकल्पीय प्रश्न थे। परिणाम 12 जून, 2019 को मेरिट लिस्‍ट और स्कोर कार्ड के रूप में घोषित किया जाएगा। एम्स, नई दिल्ली द्वारा निर्धारित न्यूनतम क्‍वालीफाइंग कट ऑफ हासिल करने वाले परीक्षार्थी ही काउंसलिंग में शामिल होने के पात्र होंगे। एम्‍स एमबीबीएस 2019 परीक्षा की तारीख, एप्‍लीकेशन फार्म, पात्रता मानदंड, एडमिट कार्ड, सिलेबस, परिणाम और कांउसलिंग के बारे में जानने के लिए यह लेख पढ़ें।

एम्‍स एमबीबीएस 2019 में - नया क्या है?

संशोधित सीट मैट्रिक्स: एम्स एमबीबीएस 2019 के लिए जारी संशोधित सीट मैट्रिक्स के अनुसार, देश के 15 एम्स में उपलब्ध कुल सीटों में 5 सीटों की वृद्धि की गई है। भारतीय नागरिकों के लिए उपलब्ध सीटों की कुल संख्या बढ़कर 1205 हो गई जो पहले 1200 थी।

काउंसलिंग: एम्स एमबीबीएस काउंसलिंग का दूसरा राउंड 15 जुलाई से 17 जुलाई के बीच आयोजित किया जायेगा।

स्कोरकार्ड जारी: प्रत्येक उम्मीदवार के व्यक्तिगत स्कोरकार्ड 14 जून, 2019 को जारी किए गए। उम्मीदवारों को अपना पर्सेंटाइल स्कोर और रैंक देखने के लिए अपने लॉगिन क्रेडेंशियल्स का उपयोग करना आवश्यक है।

रिजल्ट - एम्स प्राधिकरण ने 12 जून को एम्स एमबीबीएस 2019 रिजल्ट घोषित किया।

आरयूसी पुनर्प्राप्ति सुविधा - जिन उम्मीदवारों ने अपना आरयूसी खो दिया था, वे अब इसे पुनः प्राप्त कर सकते हैं, क्योंकि यह सुविधा 23 मई से सक्रिय कर दी गई।

एडमिट कार्ड जारी - प्राधिकरण ने 15 मई को एम्स एमबीबीएस प्रवेश परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड जारी किया। उम्मीदवारों को इसे डाउनलोड करने के लिए अपनी रजिस्‍ट्रेशन आईडी, आरयूसी कोड, पासवर्ड और दिए गए कैप्चा कोड की आवश्यकता होती है। आरयूसी कोड भूल जाने या खो जाने की स्थिति में, उम्मीदवारों को इसे पुनः प्राप्त करने के लिए लिए इस लेख में ऊपर दी गई प्रक्रिया का पालन करना पड़ेगा।

परीक्षा केंद्र घटे - इस वर्ष एम्स परीक्षा शहरों को घटा दिया गया है और अब देश में कुल 151 परीक्षा शहर हैं। बहादुरगढ़ (हरियाणा), बारामूला (जम्मू और कश्मीर) और कन्याकुमारी (तमिलनाडु) को एम्स एमबीबीएस परीक्षा शहर 2019 की सूची में शामिल नहीं किया गया है। इसके अलावा, अरुणाचल प्रदेश के नहरलागुन शहर के स्‍थान पर ईटानगर को परीक्षा शहर बनाया गया है। पिछले वर्ष देश के 154 प्रमुख शहरों में परीक्षा आयोजित की गई थी।

एम्‍स एमबीबीएस 2019 प्रॉस्पेक्टस जारी – एम्‍स, नई दिल्ली ने 15 एम्‍स संस्थानों में प्रवेश के लिए एम्‍स 2019 का प्रॉस्पेक्टस जारी कर दिया है, जिसमें परीक्षा पैटर्न, अंक देने की योजना और परिणाम में कोई बदलाव नहीं किया गया है।

एम्स नागपुर और गुंटूर में 100 एमबीबीएस सीटें - प्राधिकरण ने एम्स गुंटूर और एम्स नागपुर में में 50-50 एमबीबीएस सीटें बढ़ा दी हैं।

सीट इंटेक बढ़ा- फाइनल रजिस्‍ट्रेशन प्रक्रिया शुरू होने के साथ ही एम्स, नई दिल्ली ने सीटों की कुल संख्या जारी की है। एम्‍स एमबीबीएस के माध्यम से 15 एम्‍स संस्थानों में कुल 1,207 एमबीबीएस सीटें उपलब्‍ध होंगी।

पंजीयन के लिए एम्स लॉग इन बढ़ाया - एम्स एप्‍लीकेशन फार्म की अंतिम तिथि 14 जनवरी तक बढ़ा दी गई थी।

पीडब्ल्यूडी परीक्षार्थियों के पात्रता मानदंड में बदलाव- एम्स एमबीबीएस 2019 देने के लिए 12वीं कक्षा में अंग्रेजी, भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान में न्यूनतम 45% अंक आवश्यक हैं। इससे पहले न्यूनतम 50% अंक आवश्यक थे।

छह नए एम्‍स संस्थान- शैक्षणिक सत्र 2019-20 के लिए कल्याणी, रायबरेली, गोरखपुर, बठिंडा, देवगढ़ और बीबीनगर में छह नए एम्‍स शुरू किए गए हैं, इनको मिलाकर अब देश में कुल 15 एम्‍स संस्थान हैं।

एम्स आवेदन प्रक्रिया में बदलाव- एम्स एमबीबीएस आवेदन पत्र 2019 पीएएआर (प्रॉस्‍पेक्टिव एप्‍लीकंट एडवांस्‍ड रजिस्‍ट्रेशन) सुविधा के माध्यम से भरा जा सकता है। पीएएआर सुविधा के अनुसार आवेदन प्रक्रिया में दो प्रमुख स्‍टेप्‍स – बेसिक रजिस्‍ट्रेशन और फाइनल रजिस्‍ट्रेशन होंगे। बेसिक रजिस्‍ट्रेशन के लिए मूल विवरण दर्ज करना आवश्यक है। फाइनल रजिस्‍ट्रेशन में परीक्षार्थियों को शैक्षणिक योग्यता, आवेदन शुल्क और परीक्षा शहर का विकल्प सबमिट करना होगा।

एम्‍स एमबीबीएस 2019 अधिसूचना- एम्‍स, नई दिल्ली ने एम्‍स एमबीबीएस 2019 के लिए अधिसूचना जारी की है, जिसमें पात्रता मानदंड, इससे जुड़े संस्थान और प्रवेश परीक्षा की महत्वपूर्ण तारीखें निर्दिष्ट हैं। एम्स एमबीबीएस बेसिक रजिस्‍ट्रेशन 30 नवंबर, 2018 को शुरू हुआ, जबकि फाइनल रजिस्‍ट्रेशन प्रक्रिया 29 जनवरी, 2019 से शुरू हुई।

एम्‍स एमबीबीएस 2019 – ब्‍योरा

विशेष जानकारी

विवरण

परीक्षा की तारीख

25 और 26 मई, 2019

परीक्षा का नाम

एम्स एमबीबीएस प्रवेश परीक्षा

परीक्षा श्रेणी

अंडर ग्रेजुएट

परीक्षा का स्तर

राष्ट्रीय स्तर

आयोजक प्राधिकरण

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) नई दिल्ली

इस नाम से प्रसिद्ध

एम्स एमबीबीएस

परीक्षा का उद्देश्य

यूजी मेडिकल कोर्स में प्रवेश

परीक्षा की अवधि

3 घंटे 30 मिनट

परीक्षा शहर

लगभग 155

कुल एम्स संस्थान

15 संस्थान - नई दिल्ली, भोपाल, भुवनेश्वर, जोधपुर, पटना, रायपुर, ऋषिकेश, गुंटूर, नागपुर, कल्याणी, रायबरेली, गोरखपुर, बठिंडा, देवगढ़ और बीबीनगर

सीटों की संख्या की

1,207


एम्‍स एमबीबीएस महत्‍वपूर्ण तारीख 2019

परीक्षार्थी नीचे दी गई तालिका से एम्‍स एमबीबीएस 2019 की महत्‍वपूर्ण तारीखें देख सकते हैं।

एम्‍स एमबीबीएस तारीख

कार्यक्रम

तारीख

एप्‍लीकेशन फार्म का बेसिक रजिस्‍ट्रेशन शुरू

30 नवंबर, 2018

बेसिक रजिस्‍ट्रेशन की अंतिम तारीख

14 जनवरी, 2019

बेसिक रजिस्‍ट्रेशन स्‍टेटस

17 जनवरी, 2019

बेसिक रजिस्‍ट्रेशन में गलती सुधारना (अस्वीकार्य)

17 से 21 जनवरी, 2019

बेसिक रजिस्‍ट्रेशन का फाइनल स्‍टेटस

12 जनवरी, 2019 (ऐसे परीक्षार्थियों के लिए जिन्होंने अपनी इमेज दोबारा अपलोड की है)

प्रॉस्पेक्टस जारी करने की तारीख

23 फरवरी, 2019 (जारी)

फाइनल रजिस्‍ट्रेशन के लिए कोड जनरेट करना

29 जनवरी से 17 फरवरी, 2019

कोड जनरेट किए गए आवेदकों के लिए फाइनल रजिस्‍ट्रेशन प्रक्रिया

19 से 25 मार्च, 2019

कोड जनरेट करने की सुविधा दोबारा खुलना

19 से 25 मार्च, 2019

एडमिट कार्ड जारी करना

15 मई, 2019 (जारी)

आरयूसी (रजिस्ट्रेशन यूनिक कोड) को पुनः प्राप्त करने की सुविधा23 मई, 2019 (सुविधा उपलब्ध)

एम्स एमबीबीएस परीक्षा की तारीख

25 और 26 मई, 2019

कोचिंग संस्थानों द्वारा एम्स एमबीबीएस आंसर की जारी26 मई, 2019 (उपलब्ध)

परिणाम घोषित होगा

12 जून, 2019

मेरिट लिस्‍ट का प्रकाशन

12 जून, 2019

मॉक काउंसलिंग शुरू

20 जून 2019 (शुरू)


एम्‍स एमबीबीएस कांउसलिंग 2019

प्राधिकरण 15 से 17 जुलाई, 2019 तक एम्स एमबीबीएस 2019 काउंसलिंग का दूसरा दौर आयोजित करने जा रहा है। इससे पहले, पहले दौर की काउंसलिंग का परिणाम 30 जून को घोषित किया गया था। एम्स, नई दिल्ली ने 20 जून से ऑनलाइन मोड में एम्स एमबीबीएस काउंसलिंग का मॉक राउंड शुरू कर दिया था। काउंसलिंग का पहला दौर 20 जून, 2019 से शुरू हो गया है। काउंसलिंग और सीट अलॉटमेंट प्रक्रिया के लिए बुलाए गए परीक्षार्थियों की संख्या उपलब्ध सीटों से चार गुना होगी। पिछले वर्ष काउंसलिंग प्रक्रिया के लिए कुल 7,617 अभ्यर्थी क्‍वालीफाई हुए थे। काउंसलिंग तीन राउंड में की जाएगी, जिनमें एक अलग ओपन और स्पॉट राउंड होंगे। कांउसलिंग प्रक्रिया के दौरान परीक्षार्थियों को आवश्यक विवरण दर्ज करके स्‍वयं को पंजीकृत करना होगा। पंजीयन प्रक्रिया के दौरान परीक्षार्थियों को प्रवेश के लिए अपनी प्राथमिकता वाले कोर्स और कॉलेजों के विकल्‍प देने होंगे। सीट आवंटन के पहले दौर का परिणाम जुलाई 2019 के दूसरे सप्ताह में जारी किया जाएगा। भरे गए विकल्पों और उपलब्ध एम्‍स एमबीबीएस ऑल इंडिया रैंक (एआईआर) के आधार पर पात्र परीक्षार्थियों को सीट आवंटित की जाएगी।

पहले दौर के काउंसलिंग के परिणाम में शामिल छात्रों को प्रवेश प्रक्रिया पूरी करने के लिए सत्यापित किए जाने वाले दस्तावेजों के साथ आवंटित संस्थान में रिपोर्ट करना होगा।

एम्‍स एमबीबीएस आंसर की 2019

एम्स, नई दिल्ली द्वारा कोई आधिकारिक आंसर की प्रकाशित नहीं की जाएगी, क्योंकि प्रवेश परीक्षा कंप्यूटर आधारित मोड में आयोजित की गई। हालांकि, प्रमुख कोचिंग संस्थानों में से एक रेजोनेंस ने विभिन्न पेपर कोड के लिए उम्मीदवारों की स्मृति के आधार पर एम्स एमबीबीएस आंसर की 2019 जारी की है। उम्मीदवार आंसर की में दिए गए उत्तरों के साथ परीक्षा में दिए गए उत्तरों का मिलान कर सकते हैं। इसके बाद, वे आधिकारिक मार्किंग स्कीम का उपयोग करके अपने अनुमानित अंकों की गणना कर सकते हैं।

एम्‍स एमबीबीएस एप्‍लीकेशन फार्म 2019

प्राधिकरण ने उन परीक्षार्थियों के लिए कोड जनरेशन की सुविधा को दोबारा खोला था, जिन्होंने सफलतापूर्वक अपना बेसिक रजिस्‍ट्रेशन फार्म सबमिट किया था। परीक्षार्थियों को 19 से 25 मार्च, 2019 तक यूनिक कोड जनरेट कर एम्स एमबीबीएस 2019 के एप्‍लीकेशन फार्म के फाइनल रजिस्‍ट्रेशन फार्म भरने का अंतिम अवसर प्रदान किया गया था। एम्स एमबीबीएस 2019 के लिए रजिस्‍ट्रेशन के लिए छात्रों को एम्‍स कैंडिडेट लॉग इन 2019 विंडो में अपना रजिस्‍ट्रेशन आईडी, यूनिक कोड, पासवर्ड और प्रदर्शित कैप्चा कोड दर्ज करना था। पात्र परीक्षार्थी 25 मार्च, 2019 तक फाइनल रजिस्‍ट्रेशन के लिए रजिस्‍ट्रेशन कर सकते थे।

एम्‍स, नई दिल्ली ने 30 नवंबर, 2018 को एम्‍स एपलीकेशन फार्म 2019 की बेसिक रजिस्‍ट्रेशन प्रक्रिया शुरू की थी। निर्धारित पात्रता मानदंडों को पूरा करने वाले परीक्षार्थी एम्‍स एमबीबीएस 2019 के एप्‍लीकेशन फार्म ऑनलाइन मोड में भर सकते थे। आवेदन प्रक्रिया को बदल दिया गया था और प्रॉस्‍पेक्टिव एप्‍लीकंट एडवांस्‍ड रजिस्‍ट्रेशन (पीएएआर) सुविधा के माध्यम से आवेदन किया जा सकता था।

एम्‍स एमबीबीएस ऑनलाइन रजिस्‍ट्रेशन दो स्‍टेप्‍स में किया जा सकता था: बेसिक रजिस्‍ट्रेशन और फाइनल रजिस्‍ट्रेशन। एप्‍लीकेशन फार्म भरने के लिए नीचे दिए गए स्‍टेप्‍स का पालन करना था:

बेसिक रजिस्‍ट्रेशन स्‍टेप्‍स

स्‍टेप 1: ऑनलाइन रजिस्‍ट्रेशन

स्‍टेप 2: स्कैन की गई इमेज अपलोड करना

फाइनल रजिस्‍ट्रेशन स्‍टेप्‍स

स्‍टेप 3: शैक्षणिक योग्यता और पता

स्‍टेप 4: आवेदन शुल्क का भुगतान

स्‍टेप 5: परीक्षा शहर का चयन

स्‍टेप 6: भरे हुए एप्‍लीकेशन फार्म का प्रिंटआउट

एम्स, नई दिल्ली ने एम्स एमबीबीएस पंजीयन 2019 के लिए भुगतान किए जाने वाले पंजीयन शुल्क की घोषणा की थी। आवेदन शुल्क का भुगतान फाइनल रजिस्‍ट्रेशन में करना था। सामान्य और ओबीसी परीक्षार्थियों के लिए आवेदन शुल्क 1500 रुपये है, जबकि एससी / एसटी अथ्‍यर्थियों के लिए आवेदन शुल्क 1200 रुपये है, जिसका भुगतान क्रेडिट / डेबिट कार्ड या नेट बैंकिंग के माध्यम से ऑनलाइन मोड में करना था।

एम्‍स एमबीबीएस एडमिट कार्ड 2019

एम्‍स, नई दिल्ली ने 15 मई 2019 को एम्‍स एमबीबीएस 2019 परीक्षा का एडमिट कार्ड जारी कर दिया था। एम्स एमबीबीएस 2019 परीक्षा का एडमिट कार्ड डाउनलोड करने के लिए, उम्मीदवारों को अपनी रजिस्ट्रेशन आईडी, रजिस्ट्रेशन यूनिक कोड (आरयूसी), पासवर्ड और आधिकारिक विंडो में कैप्चा कोड प्रदान करना आवश्यक है। परीक्षा प्राधिकरण ने उम्मीदवारों को एडमिट कार्ड डाउनलोड करने के लिए आरयूसी नंबर का प्रयोग करने की सुविधा प्रदान की है। छात्रों को डाउनलोड करने के बाद एडमिट कार्ड में दर्ज नाम, पता, रोल नंबर, फोटोग्राफ, हस्ताक्षर जैसे विवरणों की जांच कर उन्‍हें ध्यान से सत्यापित करना चाहिए। परीक्षार्थियों को सलाह दी जाती है कि काउंसलिंग और प्रवेश प्रक्रिया के अंत तक एम्स एमबीबीएस एडमिट कार्ड 2019 को संभाल कर रखें।

एम्स एमबीबीएस परीक्षा के दिन के लिए दिशानिर्देश 2019

  • परीक्षार्थियों को बगैर परेशानी के परीक्षा देने के लिए एम्स, नई दिल्ली द्वारा उपलब्‍ध कराए गए परीक्षा के दिन के लिए दिशानिर्देशों को अवश्‍य पढ़ना चाहिए।
  • एम्‍स एमबीबीएस 2019 परीक्षा दो दिन में चार पारी में आयोजित की जाएगी। परीक्षार्थियों को बगैर क्रम के स्लॉट आवंटित किए जाएंगे, इसलिए परीक्षा की सही तारीख और समय का विवरण एडमिट कार्ड में दिया जाएगा।
  • समय के बारे में सलाह दी जाती है कि परीक्षार्थियों को एम्स एमबीबीएस परीक्षा शुरू होने से कम से कम एक घंटा पहले परीक्षा केंद्र पर पहुंचना चाहिए। इससे उन्‍हें परीक्षा से पहले की सुरक्षा जांच जैसे बायोमेट्रिक सत्यापन, फोटो खिंचने आदि के लिए उचित समय मिल पाएगा।
  • परीक्षार्थियों को अपने साथ कोई स्टेशनरी सामान नहीं ले जाना चाहिए। परीक्षा केंद्र के बाहर एम्स प्राधिकरण द्वारा पेन और रफ शीट उपलब्ध कराई जाएगी। रफ वर्क केवल दी गई शीट में और एडमिट कार्ड के पीछे किए जाएंगे।
  • परीक्षा हॉल के अंदर किसी भी इलेक्ट्रॉनिक सामान, आभूषण या पाठ्य सामग्री ले जाने की अनुमति नहीं होगी। केंद्र में इन वस्तुओं को सुरक्षित रखने के लिए कोई व्यवस्था नहीं की जाएगी।
  • परीक्षा हॉल के अंदर ले जाने के लिए एकमात्र दस्तावेज एक पहचान प्रमाण के साथ एम्स एमबीबीएस एडमिट कार्ड 2019 है।

एम्‍स एमबीबीएस पात्रता मानदंड 2019

प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन करने से पहले परीक्षार्थियों को एम्स एमबीबीएस पात्रता मानदंड देख लेना चाहिए, ताकि पता चल सके कि वे इसके लिए पात्र हैं या नहीं। नीचे दिए गए मूल पात्रता मानदंड देखें, जिन्‍हें परीक्षार्थियों को पूरा करना होता है।

  • आयु: 31 दिसंबर, 2019 को छात्रों की आयु 17 वर्ष होनी चाहिए। 2 जनवरी, 2003 को या उसके बाद जन्‍में परीक्षार्थी आवेदन करने के लिए पात्र नहीं हैं।
  • शैक्षणिक योग्यता: परीक्षार्थी को मुख्य विषय के रूप में भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीवविज्ञान और अंग्रेजी से 12वीं कक्षा या किसी भी भारतीय राज्य के मान्यता प्राप्त बोर्ड से समकक्ष परीक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए।
  • आवश्‍यक न्यूनतम अंक: सामान्य और ओबीसी आवेदकों के 12 वीं कक्षा में अंग्रेजी, रसायन विज्ञान,भौतिकी और जीव विज्ञान में कुल 60% अंक होना चाहिए। एससी और एसटी परीक्षार्थियों के कम से कम 50% अंक, जबकि ओपीएच अभ्‍यर्थियों के कम से कम 45% अंक होना चाहिए।

एम्‍स एमबीबीएस परीक्षा केंद्र 2019

एम्‍स एमबीबीएस 2019 परीक्षा केंद्र वह स्थान हैं, जहां परीक्षा आयोजित की जाएगी। एम्‍स, नई दिल्ली ने एम्‍स एमबीबीएस 2019 के परीक्षा शहरों की सूची जारी की है। इस वर्ष दो परीक्षा शहरों को कम कर दिया गया है अब पूरे देश में कुल 151 परीक्षा शहर है। बहादुरगढ़ (हरियाणा), बारामूला (जम्मू और कश्मीर) और कन्याकुमारी (तमिलनाडु) को परीक्षा शहरों की सूची से हटा दिया गया है। आवेदक को एप्‍लीकेशन फार्म भरते समय अपनी पसंद और सुविधा के अनुसार किया परीक्षा केंद्रों का चयन करना चाहिए। परीक्षा केंद्रों में से किसी भी एक केंद्र की प्राथमिकता का चयन कर सकते हैं। परीक्षा केंद्रों का चयन सीटों की उपलब्धता के आधार पर किया जाएगा, जबकि चयन पहले आओ-पहले पाओ के आधार पर किया जाएगा। एडमिट कार्ड में रिपोर्टिंग समय के साथ आवंटित एम्स एमबीबीएस परीक्षा केंद्रों की जानकारी दी जाएगी।

एम्‍स एमबीबीएस परीक्षा पैटर्न 2019

जैसा कि पहले बताया गया है एम्‍स एमबीबीएस 2019 परीक्षा में भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीवविज्ञान, सामान्य ज्ञान और एप्टिट्यूड तथा लॉजीकल रीजनिंग से 200 वस्तुनिष्ठ प्रश्न (मल्‍टीपल चॉइस और रीजन असरशन) शामिल हैं। अच्छी तरह से तैयारी करने के लिए परीक्षा से पहले एम्‍स एमबीबीएस 2019 का पूरा परीक्षा पैटर्न जानना महत्वपूर्ण है।

एम्स एमबीबीएस पेपर पैटर्न

कार्यक्रम

वि‍वरण

परीक्षा मोड

कंप्यूटर आधारित मोड

पारी की संख्या

4 पारी- 25 मई को दो और 26 मई, 2019 को दो

पारी का समय


सुबह की पारी - सुबह 09:00 से दोपहर 12:30 बजे तक

शाम की पारी - दोपहर 03:00 से शाम 06:30 तक

पारी का आवंटन

बगैर क्रम के

परीक्षा का माध्यम

अंग्रेजी और हिंदी विकल्प (परीक्षार्थी की पसंद के अनुसार)

कुल सवाल

200

प्रश्नों का प्रकार

वस्तुनिष्ठ - मल्‍टीपल चॉइस (एमसीक्‍यू) और रीजन असरशन

आवंटित समय

3 घंटे 30 मिनट

अंक देने की योजना


एक सही उत्तर के लिए +1 अंक

गलत अटेम्‍प्‍ट के लिए -1/3 अंक

अनुत्तरित प्रश्नों के लिए 0 अंक

सिलेबस

10 + 2 में पढ़ाया गया सीबीएसई सिलेबस और मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (एमसीआई) द्वारा अधिसूचित सामान्य सिलेबस।


एम्‍स एमबीबीएस परिणाम 2019

एम्‍स, नई दिल्ली ने 12 जून, 2019 को एम्‍स एमबीबीएस 2019 परिणाम घोषित कर दिया। प्राधिकरण ने रोल नंबर-वार और रैंक-वार परिणाम मेरिट लिस्‍ट के रूप में जारी कर दी है। न्‍यूनतम क्‍वालफाइंग प्रतिशत हासिल करने वाले परीक्षार्थी ही अपना परिणाम देख सकते हैं। मेरिट लिस्ट में क्‍वालीफाइड परीक्षार्थी का नाम, कुल स्कोर, विषयवार पर्सेंटाइल स्कोर और क्‍वालफाइंग स्‍टेटस होगा।

परिणाम के साथ ही व्यक्तिगत पर्सेंटाइल स्कोरकार्ड भी जारी किए जाएंगे और इसे आवश्यक क्रेडेंशियल के जरिए लॉग इन करके डाउनलोड किया जा सकता है।

एम्‍स एमबीबीएस मेरिट लिस्‍ट 2019

एम्स, नई दिल्ली मेरिट लिस्‍ट तैयार करेगा, जिसमें प्रवेश परीक्षा क्‍वालीफाई करने वाले परीक्षार्थियों का फाइनल स्‍कोर शामिल होंगे। प्राधिकरण द्वारा निर्धारित न्यूनतम कट ऑफ प्रतिशत हासिल कर मेरिट लिस्‍ट में शामिल परीक्षार्थियों को ही काउंसलिंग प्रक्रिया के लिए बुलाया जाएगा। मेरिट लिस्‍ट के आधार पर काउंसलिंग के लिए बुलाए गए छात्र उपलब्ध सीटों की संख्या से चार गुना होंगे। परिणाम-सह-मेरिट लिस्‍ट के परीक्षार्थियों को पहले राउंड की काउंसलिंग के लिए बुलाया जाएगा।

एम्‍स एमबीबीएस कटऑफ 2019

कट ऑफ का अर्थ न्यूनतम क्‍वालीफाइंग प्रतिशत है, जो प्रवेश परीक्षा पास करने के परीक्षार्थियों को हासिल करना होगा। एम्‍स, नई दिल्ली ने एम्‍स एमबीबीएस 2019 कट ऑफ के आधार पर काउंसलिंग प्रक्रिया के लिए पात्र परीक्षार्थियों को शॉर्टलिस्ट करता है। सामान्य वर्ग के परीक्षार्थियों को एम्स परीक्षा में 50% करना चाहिए; विदेशी नागरिकों के लिए 7 सीटें हैं, जबकि ओबीसी और एससी / एसटी श्रेणी के अभ्‍यर्थियों को क्रमशः 45% और 40% प्राप्त करना होगा। केवल न्यूनतम क्‍वालीफाइंग कट ऑफ के बराबर या उससे अधिक स्‍कोर करने वाले अभ्यर्थियों को ही काउंसलिंग प्रक्रिया के लिए बुलाया जाएगा।

परिणाम के साथ ही क्वालीफाइंग कट ऑफ प्रतिशत के अनुरूप पर्सेंटाइल भी घोषित किया जाएगा। कट ऑफ पर्सेंटाइल का निर्धारण सामान्यीकरण प्रक्रिया से किया जाएगा, क्योंकि एम्स एमबीबीएस परीक्षा चार पारियों में आयोजित की जाएगी। क्‍वालीफाइंग कटऑफ और पात्र परीक्षार्थी के चयन के लिए पिछले वर्ष के कट ऑफ पर्सेंटाइल नीचे तालिका में दिया गया है।

एम्‍स एमबीबीएस कट ऑफ

श्रेणी

एम्‍स कटऑफ 2019 प्रतिशत

एम्‍स एमबीबीएस 201 9 कटऑफ पर्सेंटाइल

एम्‍स एमबीबीएस 2018 कटऑफ पर्सेंटाइल

अनारक्षित (यूआर)

50%

98.1246748

98.8334496

अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी)

45%

95.2939507

97.0117712

अनुसूचित वर्ग (एससी)

40%

90.2036135

93.6505421

अनुसूचित जनजाति (एसटी)

40%

90.2036135

93.6505421

प्रवेश के लिए एम्स एमबीबीएस कट ऑफ - प्रवेश के लिए कट ऑफ अंतिम रैंक है, जिस पर विशेष एम्स संस्थान में प्रवेश बंद हो जाता है। परीक्षार्थी नीचे दी गई तालिका से सभी 9 एम्स संस्थानों में श्रेणी-वार अंतिम रैंक देख सकते हैं।

एम्स एमबीबीएस कट ऑफ रैंक

संस्‍थान

सामान्‍य

ओबीसी

एससी

एसटी

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, नई दिल्ली

53

236

1,081

उपलब्‍ध नहीं

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, भोपाल

647

1,516

8,657

22,120

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, भुवनेश्वर

542

1,453

9,038

19,414

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, गुंटूर

1,353

2,212

14,510

23,232

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, जोधपुर

459

919

1,641

उपलब्‍ध नहीं

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, नागपुर

1,324

2,168

13,638

23,875

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, पटना

1,222

2,048

14,195

24,045

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, रायपुर

1,145

2,074

13,607

उपलब्‍ध नहीं

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, ऋषिकेश

769

1,664

10,471

23,966


एम्‍स एमबीबीएस सीटें और आरक्षण 2019

प्राधिकरण ने एम्स एमबीबीएस 2019 के लिए भारत में 15 एम्स के लिए एक संशोधित सीट मैट्रिक्स जारी की है। संशोधित सीट मैट्रिक्स के अनुसार, अनारक्षित श्रेणी में तीन सीटें बढ़ाकर 609 से 612 कर दी गईं हैं। ओबीसी श्रेणी और एसटी श्रेणी के तहत एक सीट भी बढ़ा दी गई है। एससी श्रेणी के तहत उपलब्ध सीटें अपरिवर्तित हैं। एम्स, नई दिल्ली में केवल 7 सीटें विदेशी नागरिकों के लिए आरक्षित हैं। उम्मीदवार नीचे दी गई तालिका से एम्स एमबीबीएस सीट मैट्रिक्स 2019 की जांच कर सकते हैं।

एम्स एमबीबीएस सीटें और आरक्षण

संस्‍थान

सामान्‍य


सामान्‍य पीडब्ल्यूडी

ओबीसी

ओबीसी

पीडब्ल्यूडी

एससी

एससी

पीडब्ल्यूडी

एसटी

एसटी

पीडब्ल्यूडी

विदेशी

एम्स, नई दिल्ली

51

02

27

01

15

01

07

1

07*

एम्स, भोपाल

51

02

27

01

15

01

07

01

-

एम्स, भुवनेश्वर

51

02

27

01

15

01

07

01

-

एम्स, गुंटूर

26

0

14

0

07

0

03

0

-

एम्स, जोधपुर

51

02

27

01

15

01

07

01

-

एम्स, नागपुर

51

02

27

01

15

01

07

01

-

एम्स, पटना

51

03

27

01

15

01

07

0

-

एम्स, रायपुर

51

03

27

01

15

01

07

0

-

एम्स, ऋषिकेश

51

03

27

01

15

01

07

0

-

एम्स, बठिंडा

24
0214
0108
004
0-

एम्स, गोरखपुर

24
0214
0108
004
0-

एम्स, कल्याणी

24
0114
0108
004
0-

एम्स, रायबरेली

26
0113
0107
004
0-

एम्स, देवगढ़

26
0213
0107
004
0-

एम्स, तेलंगाना

26
0113
0107
004
0-

कुल

584

28

311

14

172

08

83

05

07


* इन सीटों पर प्रवेश एम्स एमबीबीएस प्रवेश परीक्षा के माध्यम से नहीं किया जाता है।

Applications Open Now

Hindustan University-UG Admissions
Hindustan University-UG Admis...
Apply
United Group of Institutions
United Group of Institutions
Apply
View All Application Forms

संबंधित लेख और समाचार

Related E-books and Sample Papers

Top
150M+ छात्र
24,000+ कालेजों
500+ परीक्षा
1500+ ई बुक्स