जिपमर पात्रता मानदंड 2020 (JIPMER eligibility criteria 2020)
Gaurav.pandey, 11 नवम्बर 2019

जिपमर पात्रता मानदंड 2020 - जवाहरलाल इंस्टीट्यूट ऑफ पोस्टग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन रिसर्च, पुडुचेरी इन्फॉर्मेशन ब्रोशर के साथ-साथ जिपमर 2020 प्रवेश परीक्षा पात्रता मानदंडों को भी जारी करेगा। जिपमर पात्रता मानदंड 2020 वे महत्वपूर्ण आवश्यकताएं होती हैं जिन्हें पूरा करने के बाद ही कोई उम्मीदवार परीक्षा देने के योग्य माना जाता है। एप्लीकेशन फॉर्म भरने से पहले सभी अभ्यर्थियों को जिपमर पात्रता मानदंड 2020 ध्यानपूर्वक देख लेने चाहिए। जिपमर पात्रता मानदंड 2020 के अनुसार, सामान्य श्रेणी के उम्मीदवारों को भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान में संयुक्त रूप से कम से कम 50% अंक प्राप्त करने चाहिए। ध्यान दें कि केवल वे उम्मीदवार जो जिपमर 2020 पात्रता मानदंडों को पूरा करेंगे, उन्हें चिकित्सा प्रवेश परीक्षा के लिए योग्य माना जाएगा, अन्यथा, आवेदन पत्र खारिज कर दिए जाएंगे। जिपमर पात्रता मानदंड 2020 में राष्ट्रीयता, अकादमिक आवश्यकताएं, आयु सीमा और अन्य अनिवार्य आवश्यकताएं होंगी जिसे सभी अभ्यर्थियों द्वारा पूरा किया जाना चाहिए। जिपमर के माध्यम से एमबीबीएस करने के इच्छुक अभ्यर्थी नीचे दिए लेख को पूरा पढ़ सकते हैं और जिपमर 2020 पात्रता मानदंड से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारियों को प्राप्त कर सकते हैं।

Latest :  Crack NEET 2020 with NEET Knockout Program( AI-Based Coaching), If you Do Not Qualify- Get 100% MONEY BACK. Know More

Latest: स्वास्थ्य और कल्याण मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने 4 अक्टूबर 2019 को दिए एक साक्षात्कार में, नीट को भारत में मेडिकल यूजी पाठ्यक्रमों के लिए आयोजित की जाने वाली एकल प्रवेश परीक्षा घोषित किया। नीट के माध्यम से अब एम्स और जिपमर समेत देश के सभी मेडिकल कॉलेजों में एडमिशन होंगे!

जिपमर पात्रता मानदंड 2020 (JIPMER Eligibility Criteria 2020)– ओवरव्यू

पैरामीटर्स

विवरण

क्वालिफाइंग एग्जाम

क्वालिफाइंग परीक्षा में भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान / बायोटेक्नोलॉजी मुख्य विषय होने चाहिए। हालाँकि, एक वैकल्पिक विषय के रूप में अंग्रेजी विषय का होना भी अनिवार्य है।

न्यूनतम आयु सीमा

31 दिसंबर 2020 को 17 वर्ष

अभ्यर्थियों का जन्म 1 जनवरी 2004 को या उससे पहले होना चाहिए।

अधिकतम आयु सीमा

जिपमर एमबीबीएस 2020 के लिए ऊपरी आयु सीमा निर्धारित नहीं की गई है।

क्वालिफाइंग मार्क्स

सामान्य (यूआर) और ईडब्ल्यूएस - 50%, एससी/एसटी/ओबीसी/पीडब्ल्यूडी - 40%, सामान्य-पीडब्ल्यूडी - 45% (केवल PCB विषयों के लिए न्यूनतम कुल अंक)

राष्ट्रीयता

भारतीय नागरिक, एनआरआई (NRIs) और ओसीआई (OCIs)

जिपमर पात्रता मानदंड 2020 – राष्ट्रीयता

जिपमर पात्रता मानदंड 2020 के अनुसार, अभ्यर्थी को भारतीय नागरिक/ प्रवासी भारतीय नागरिक (OCI)/ भारत का अनिवासी नागरिक (NRI) होना चाहिए। OCI और NRI अभ्यर्थियों को एप्लीकेशन फॉर्म भरने के दौरान अनिवार्य दस्तावेज अपलोड करने होंगें। इसके अलावा, ये अभ्यर्थी केवल 'अनारक्षित' श्रेणी की सीटों के ही उम्मीदवार मानें जाएंगे।

NEET Online Preparation

Crack NEET 2020 with NEET Knockout Program, If you Do Not Qualify- Get 100% MONEY BACK

Start Now

जिपमर पात्रता मानदंड 2020 – आयु सीमा

जिपमर एमबीबीएस के लिए आवेदन करने वाले अभ्यर्थियों की आयु 31 दिसंबर 2020 को कम– से–कम 17 वर्ष होनी चाहिए। जिपमर पात्रता मानदंड 2020 के अनुसार, प्रवेश परीक्षा देने के लिए अधिकतम आयु सीमा निर्धारित नहीं की गई है। ध्यान दें कि किसी भी परिस्थिति में अभ्यर्थियों को, चाहे वे किसी भी श्रेणी के हों, न्यूनतम आयु सीमा में कोई छूट नहीं दी जाएगी।

जिपमर पात्रता मानदंड 2020 – अकादमिक आवश्यकताएं

जिपमर एमबीबीएस 2020 के अभ्यर्थियों को क्वालिफाइंग एग्जाम यानि 12वीं की परीक्षा पास होना चाहिए या 12 वर्षों के अध्ययन के बाद समकक्ष परीक्षा पास होनी चाहिए। अभ्यर्थियों ने अपने अंतिम दो वर्ष के अध्ययन में मुख्य विषय के रूप में भौतिकी, रसायनशास्त्र, जीवविज्ञान/ बायोटेक्नोलॉजी पढ़ा होना चाहिए और इस दौरान उनके वैकल्पिक विषय के रूप में अनिवार्य रूप से अंग्रेजी होनी चाहिए। OCI/NRI अभ्यर्थी, जिन्होंने देश से 12वीं कक्षा पास नहीं की हो उन्हें एसोसिएशन और इंडियन यूनिवर्सिटीज़, नई दिल्ली से बनवाया गया इलिजिबिलिटी सर्टिफिकेट जमा कराना होगा।

जिपमर एमबीबीएस 2020 पात्रता मानदंड के अनुसार, प्रत्येक कैटेगरी के लिए क्वालिफाइंग मार्क्स कम कर दिए गए हैं। इस वर्ष, एक ईडब्ल्यूएस (आर्थिक रूप से कमजोर) कैटेगरी को भी शामिल किया गया है। जिपमर 2020 देने के योग्य होने के लिए अनारक्षित और ईडब्ल्यूएस कैटेगरी के लिए क्वालिफाइंग पर्सेंटाइल 60% से कम कर 50% कर दिया गया है। जबकि एससी/एसटी/ओबीसी/विकलांग और अनारक्षित-विकलांग अभ्यर्थियों के लिए यह क्रमशः 40% और 45% है।

न्यूनतम आवश्यक अंक

कैटेगरीज

10+2 में आवश्यक न्यूनतम अंक

सामान्य (UR) और ईडब्ल्यूएस

50%

एससी/एसटी/ओबीसी

40%

सामान्य-ओपीएच

45%

जिपमर एमबीबीएस पात्रता मानदंड 2020 - हाइलाइट्स

  • ऐसे अभ्यर्थी जिनके रिजल्ट जिपमर एप्लीकेशन फॉर्म 2020 के उपलब्ध हो जाने के बाद भी न आए हों लेकिन वे आयु सीमा, राष्ट्रीयता और अकादमिक आवश्यकताओं आदि जैसे जिपमर 2020 पात्रता मानदंडों को पूरा करते हों, तो वह यह एप्लीकेशन फॉर्म भर सकते हैं। हालांकि, कक्षा 12वीं के रिजल्ट आने के बाद ही उन्हें योग्य माना जाएगा।

  • ऐसे अभ्यर्थी जिनके 12वीं कक्षा का रिजल्ट अभी तक नहीं आया है, वे ध्यान रखें कि उन्हें जारी किया जाने वाला एडमिट कार्ड जिपमर, पुडुचेरी में उनके एडमिशन की पुष्टि नहीं करेगा। एडमिशन के लिए योग्य होने के लिए उम्मीदवारों को 12वीं कक्षा के रिजल्ट की जरूरत होगी।

जिपमर एमबीबीएस, एक राष्ट्रीय स्तर की प्रवेश परीक्षा है जो जून महीने 2020 के पहले सप्ताह में आयोजित की जाएगी। जिपमर रिजल्ट 2020 जून महीने के अंतिम सप्ताह में जारी किए जाने की संभावना है। आयोजित की जाने वाली मेडिकल प्रवेश परीक्षा से अभ्यर्थियों को जिपमर, पुडुचेरी और जिपमर, कराईकल कैंपस में एडमिशन मिलेगा। अभ्यर्थी जिपमर 2020 के माध्यम से उपलब्ध कराई जा रही 200 सीटों पर आवेदन करेंगे। जिपमर एप्लीकेशन फॉर्म 2020, मार्च महीने के दूसरे सप्ताह में जारी किया जाएगा।

Applications Open Now

UPES - School of Health Sciences
UPES - School of Health Sciences
Apply
MyNEET 2020- Mock Test
MyNEET 2020- Mock Test
Apply
View All Application Forms

संबंधित लेख और समाचार

Top
150M+ छात्र
24,000+ कालेजों
500+ परीक्षा
1500+ ई बुक्स